लघु सचिवालय में काम के लिए आने वाली महिलाओं को अब छोटे बच्चों की चिंता नहीं होगी

35 Views

– लघु सचिवालय में छोटे बच्चों को लिए शिशु देखभाल केंद्र (अर्ली चाइल्डहुड केयर सेंटर) बनाने के लिए जिला प्रशासन का एम 3 एम फाउंडेशन के साथ हुआ एमओयू

– कार्यालय कार्य समय में बच्चों के डायपर बदलने, ब्रेड फीडिंग की होगी सुविधा, देखरेख के लिए सुपरवाइजर भी होगी नियुक्त 

फरीदाबाद, 09 जनवरी। लघु सचिवालय में प्रतिदिन 500 से ज्यादा ऐसी महिलाएं अपने कार्य करवाने के लिए आती हैं जिनके दूध पीते बच्चे हैं। इसके अलावा विभिन्न कार्यालयों में काम करनी वाली महिलाओं को भी अपने दूध पीते बच्चों को इधर-उधर छोडक़र आना पड़ता है। महिलाओं की इसी समस्या को देखते हुए उपायुक्त विक्रम सिंह ने लघु सचिवालय में अर्ली चाइल्डहुड केयर सेंटर (शिशु देखभाल केंद्र) शुरू करने के लिए निर्णय लिया है। इसके लिए सोमवार को उपायुक्त कार्यालय में उपायुञ्चîत विक्रम सिंह व एम 3 एम फाउंडेशन के बीच एक एमओयू पर हस्ताक्षर भी किए गए।

उपायुक्त विक्रम सिंह ने बताया कि लघु सचिवालय में प्रतिदिन अपने कार्यों व नौकरी के लिए आने वाली महिलाओं को छोटे बच्चों के डायपर बदलने व ब्रेस्ट फीडिंग करवाने के लिए इधर-उधर भटकना पड़ता है। इसी को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा यह निर्णय लिया गया कि लघु सचिवालय में छोटे बच्चों व महिलाओं को लिए इस तरह की कोई सुविधा उपलद्ब्रध करवाई जाए। उन्होंने बताया कि अब सीएसआर के तहत एम 3 एम फाउंडेशन के साथ इस कार्य के लिए एमओयू किया गया है। उन्होंने बताया कि यह शिशु देखभाल केंद्र दूसरे तल स्थित लिक्रट के सामने खाली पड़े स्थान पर बनाया जाएगा। एक महीने में यह बनकर तैयार हो जाएगा। इस केंद्र में बच्चों की देखरेख के लिए एक सुपरवाईजर मौजूद होगी। बच्चे खेल सकें इसके लिए अलग-अलग तरह के खिलौने भी रखे जाएंगे। इस केंद्र में महिलाएं बच्चों के डायपर बदल सकेंगी और अपने छोटे बच्चों को दूध भी पिला सकेंगी। उन्होंने बताया कि यह केंद्र सभी कार्य दिवसों में सुबह 9:00 बजे से सायं 5:00 बजे तक खुला रहेगा। इस अवसर पर एम 3 एम फाउंडेशन की सीईओ एश्वर्य महाजन, एसीईओ गौरव सिंह, गुंजन गहलोत, मयंक चित्रा सहित फाउंडेशन के सदस्य भी मौजूद थे।

Spread the love