सरकार चिरायु योजना के तहत गरीबों का करवाएगी रोगों का इलाज और साल में दो बार स्वास्थ्य हेल्थ चेकअप: कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा

19 Views
  • कहा, बल्लभगढ़ में 40 हजार परिवारों का सरकार करेगी फ्री में इलाज

बल्लभगढ़, 10 दिसम्बर। प्रदेश के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में सरकार चिरायु योजना के तहत गरीबों के रोगों का इलाज और साल में दो बार स्वास्थ्य हेल्थ चेकअप किया जाएगा। कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि बल्लभगढ़ में 40 हजार परिवारों के लगभग दो लाख लोगों का सरकार फ्री में इलाज करेगी।

कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा स्थानीय सेक्टर -3 के सरकारी एफआरयू- 2 अस्पताल में आयुष्मान योजना के तहत हरियाणा सरकार बनाए गए चिरायु कार्ड लाभार्थियों को वितरित कर रहे थे।

इस मौके पर परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि सालाना 1लाख 80 हजार से कम आय वाले व्यक्तियों के सरकार यह चिरायु कार्ड बना रही है। जिसके तहत 5 लाख तक बीमारी का इलाज सरकारी और प्राइवेट अस्पताल में लाभार्थी परिवार फ्री करा सकेगा। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कार्ड धारक के परिवार निशुल्क बीमारियों की जांच भी की जाएगी।

कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आयुष्मान भारत के तहत आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में देश में फ्री में गरीबों की स्वास्थ्य सेवाओं का विस्तार किया जा रहा है। हरियाणा में हर व्यक्ति को स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ मिले, इसके लिए सरकार द्वारा लगातार स्वास्थ्य सेवाओं का सुदृढ़ीकरण और विस्तारीकरण किया जा रहा है। इसी कड़ी में एक कदम और आगे बढ़ते हुए हरियाणा सरकार ने आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रदेश के ऐसे जरूरतमंद गरीब परिवारों को भी लाभ देने की शुरुआत की है, जिसका नाम वर्ष 2011 के सामाजिक आर्थिक और जातिगत जनगणना (एसईसीसी) डाटा में दर्ज नहीं था। ऐसे सभी व्यक्तियों के आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने अधिक से अधिक गरीब परिवारों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ मुहैया करवाने के उद्देश्य से बीपीएल परिवारों की वार्षिक आमदनी सीमा को बढ़ाकर 1.80 लाख रुपए किया है।

आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए बच्चों व बुजुर्गों के आधार कार्ड में बायोमेट्रिक करवाएं अपडेट

  • जिला में चिरायु योजना के तहत आयुष्मान कार्ड बनाने का कार्य जारी
  • चिरायु योजना के तहत अंत्योदय परिवारों को किया गया है आयुष्मान योजना में शामिल

पंडित मूलचंद शर्मा ने कहा कि हरियाणा सरकार ने केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत योजना का प्रदेश में विस्तार करते हुए अंत्योदय परिवारों को चिरायु योजना के रूप में लाभान्वित करने का सराहनीय कार्य किया है। जिन आवेदकों को 20 वर्ष से कम आयु के बच्चों व 60 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्गों के बायोमेट्रिक मिलान न होने के कारण आयुष्मान कार्ड बनवाने में परेशानी आ रही है वे सभी बच्चों व बुजुर्गों के बायोमेट्रिक आधार कार्ड में अपडेट करवा लें ताकि उन्हें आयुष्मान कार्ड बनवाने में परेशानी न आए।

हरियाणा सरकार ने आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रदेश के ऐसे जरूरतमंद परिवारों को भी लाभ देने की शुरुआत की है, जिनका नाम वर्ष 2011 के सामाजिक आर्थिक और जातिगत जनगणना (एसईसीसी) डाटा में दर्ज नहीं था। ऐसे सभी व्यक्तियों के आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने वर्ष 2018 में आयुष्मान भारत योजना की घोषणा की थी, जिसका उद्देश्य देश में जरूरतमंद व वंचितों को स्वास्थ्य सुविधाएं देना था। हरियाणा में भी एसईसीसी सूची के अनुसार पात्र लाभार्थियों को इस योजना का लाभ दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा अधिक से अधिक गरीब परिवारों को आयुष्मान भारत योजना का लाभ मुहैया करवाने के उद्देश्य से बीपीएल परिवारों की वार्षिक आमदनी सीमा को 1.20 लाख रुपये से बढ़ाकर 1.80 लाख रुपये किया गया है।

इस मौके पर बल्लभगढ़ के एसडीएम त्रिलोकचंद, एसएमओ डॉ मान सिंह, डॉ तरुण शर्मा, सतपाल मखीजा, रमेश भारद्वाज, बृजलाल शर्मा, नवीन चेची सहित सेक्टर 3 के गणमान्य लोग मौजूद रहे।

Spread the love