अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले, दिल्ली में हरियाणा राज्य दिवस के अवसर पर पहुंचे परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा

19 Views

फरीदाबाद : हरियाणा के परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि हरियाणा एक औद्योगिक हब बनकर उभरा है। औद्योगिक क्षेत्र में भारतीय अर्थव्यवस्था निरंतर प्रगति की ओर बढ़ रही है, इसमें हरियाणा प्रदेश का भी महत्वपूर्ण योगदान है। हरियाणा सरकार ने प्रदेश में एक बेहतरीन औद्योगिक माहौल बनाया है, जिससे छोटे, मझोले व बड़े उद्योग प्रदेश में लगातार स्थापित हो रहे हैं।

परिवहन मंत्री दिल्ली के प्रगति मैदान में भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में हरियाणा व्यापार मेला प्राधिकरण द्वारा आयोजित हरियाणा राज्य दिवस के अवसर पर बोल रहे थे।

इस अवसर पर संबोधित करते हुए परिवहन मंत्री ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आत्मनिर्भर भारत का नारा दिया है। इस नारे को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रदेश में आगे बढ़ाया है। उनके नेतृत्व में हरियाणा बुलंदी की तरफ बढ़ रहा है। इसी का असर है कि देश और प्रदेश में आए दिन नवाचार के नए-नए स्टार्टअप शुरू हो रहे हैं। इससे न केवल युवाओं को रोजगार मिल रहा है बल्कि यह हमारी अर्थव्यवस्था के लिए भी फायदेमंद है। नए-नए स्टार्टअप से स्थानीय उत्पाद बाजार में उपलब्ध हो रहे हैं। इससे वोकल-फॉर-लोकल का सपना साकार हो रहा है। कुछ भारतीय उत्पाद न केवल स्थानीय बाजारों बल्कि विदेशी बाजारों तक अपनी पहुंच बना रहे हैं, इससे लोकल-टू-ग्लोबल तक हमारे उत्पाद पहुंच रहे हैं। देश विदेश की बात करें तो हरियाणा अग्रिम पंक्ति में खड़ा है।

”वोकल-फॉर-लोकल” के लिए बड़े स्तर पर प्रयास कर रही हरियाणा सरकार

परिवहन मंत्री ने कहा कि हरियाणा सरकार ने भी वोकल-फॉर-लोकल के लिए बड़े स्तर पर प्रयास किए हैं। प्रदेश में खादी को बढ़ावा देने के लिए खादी ग्रामोद्योग बोर्ड बनाया गया है। इस बोर्ड और तकनीकी शिक्षा के अधिकारियों को तालमेल करके खादी के आधुनिक उत्पाद तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। ‘एक जिला-एक उत्पाद‘ योजना में हरियाणा अग्रणी राज्य बनकर उभेरगा। हरियाणा में ‘एक जिला-एक उत्पाद‘ से भी आगे बढ़कर ‘एक ब्लॉक-एक उत्पाद‘ कार्यक्रम को लागू किया जा चुका है। प्रत्येक ब्लॉक में उस ब्लॉक के लोगों द्वारा बनाए गए बेहतरीन उत्पाद के लिए एक कलस्टर बनाया जा रहा है। हरियाणा में सभी 143 ब्लॉक में कलस्टर बनाए जा चुके हैं, जिनमें पदमा योजना के तहत चुने गए ब्लॉक के अनुसार उत्पाद तैयार किए जाएंगे।

लोकल से ग्लोबल होने की जरुरत

परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि हमें लोकल से ग्लोबल होने की जरूरत है। स्थानीय उत्पादों को न केवल देश बल्कि विदेशों में भी प्रमोट करना चाहिए। देश में आज एक से बढ़कर एक उत्पाद बनाए जा रहे हैं, जो हर पैमाने पर उत्कृष्ट हैं। ऐसे उत्पादों को विदेशी बाजारों तक पहुंचाने की जरूरत है। हरियाणा सरकार ने प्रो-एक्टिव गवर्नेंस और टाइमली इम्प्लीमेंटेशन (प्रगति) के तहत सभी जिलों के लिए निर्यात योजनाएं तैयार की है। जिला स्तर पर उत्पाद को शॉर्टलिस्ट कर उसके लिए जिला स्तरीय निर्यात योजना तैयार की गई है। प्रत्येक जिले में निर्यात को बढ़ावा देने के लिए एक ‘जिला स्तरीय निर्यात संवर्धन समिति‘ का गठन भी किया गया है। इसी तरह रसद, कृषि, निर्यात और सेवा निर्यात जैसे सभी प्रकार के व्यापार संबंधी मुद्दों की समीक्षा के लिए राज्य स्तर पर व्यापार संवर्धन समिति का गठन किया गया है।

हरियाणा सरकार ने विदेश सहयोग विभाग का किया गठन

परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि हरियाणा सरकार ने प्रदेश में विदेश सहयोग विभाग बनाया है, जो आयात और निर्यात की संभावनाओं की तलाश करता है। राज्य में गुरुग्राम व फरीदाबाद में ऑटो मोबाइल, आईटी, टैक्सटाइल, इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स, केमिकल व फार्मास्यूटिकल उद्योग स्थापित हैं। इसी प्रकार झज्जर में फुटवीयर और सीमेंट, सोनीपत में ऑटो मोबाइल पार्ट्स, एग्रो व फूड प्रोसेसिंग उद्योग, पानीपत में टैक्सटाइल, यमुनानगर में प्लाइवुड व बर्तन, अंबाला में वैज्ञानिक उपकरण, सिरसा में एग्रो एण्ड फूड, हिसार में लोहा व स्टील उद्योग, धान के कटोरे के रूप में विश्वविख्यात करनाल अब फुटवीयर व कृषि उपकरण उद्योगों के लिए भी जाना जाता है। अन्य जिलों में भी हम वहां के स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देकर उन्हें निर्यात की श्रेणी में लाने का प्रयास कर रहे हैं।

हरियाणा के उत्पादों का निरंतर बढ़ रहा निर्यात

परिहवन मंत्री ने कहा कि हरियाणा के उत्पादों का निर्यात निरंतर बढ़ रहा है। कृषि उपकरण और कृषि खाद्य उत्पाद में 2,080 करोड़, चावल निर्यात में 13,736 करोड़, हथकरघा, हस्तशिल्प और चमड़ा उत्पाद में 11,524 करोड़, ऑटोमोबाइल और ऑटो पार्ट में 9,225 करोड़, रेडिमेड कपड़ों में 5,687 करोड़, इलेक्ट्रिकल, इलेक्ट्रॉनिक्स और मशीनरी पार्ट्स में 3,924 करोड़, केमिकल और दवाईयों में 3.526 करोड़ व आईटी के क्षेत्र में 88,840 करोड़ रुपये का निर्यात हो रहा है।

इससे पूर्व, परिवहन मंत्री ने हरियाणा पवेलियन में पहुंच कर अलग अलग स्टॉल का निरीक्षण किया। इसके बाद कार्यक्रम स्थल में पहुंच कर दीप प्रज्वलित हरियाणा राज्य दिवस का शुभारंभ किया।

इस अवसर पर प्रशासक सोफिया दहिया, वरिष्ठ प्रबंधक अनिल चौधरी व अन्य वरिष्ठ अधिकारियों सहित भरी संख्या में दर्शक मौजूद रहे।

Spread the love