प्रधानमंत्री पुरस्कार को लेकर उपायुक्त ने ली जन स्वास्थ्य विभाग की बैठक

33 Views

फरीदाबाद : डीसी विक्रम सिंह ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रंखला केंद्र सरकार ने लोक प्रशासन में उत्कृष्टता के लिए दिए जाने वाले प्रधानमंत्री पुरस्कार 2022 की घोषणा कर इससे जुड़ी एक वेबसाइट शुरू की है। इसे केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने सोमवार को लांच किया था। इसी पुरस्कार को लेकर जिला स्तर पर भी अभियान तेज हो गया है।

इसी क्रम में जिला उपायुक्त विक्रम सिंह ने जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधिकारियों की एक बैठक ली। बैठक में जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के कार्यकारी अभियंता अमित जैन, एसडीओ अजय कुमार जिंदल, जेई रघुबीर सिंह, जिला सलाहकार सत्यनारायण नेहरा को उन्होंने जल जीवन मिशन के तहत जिला फरीदाबाद में हुए कार्यों की समीक्षा कर दिशा निर्देश दिए।

डीसी विक्रम सिंह ने दिशा-निर्देश देते हुए कार्य में और ज्यादा तेजी लाकर कार्य पूर्ण करके पुरस्कार प्राप्त करने की बात कही।

समीक्षा करते हुए जिला उपायुक्त ने कहा कि इस पुरस्कार के लिए विजेताओं को चुनने के दौरान बजाय गुणात्मक उपलब्धियों पर खास ध्यान दिया जाएगा। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री पुरस्कार का उद्देश्य रचनात्मक प्रतिस्पर्धा, नवाचार और सर्वोत्तम अभ्यास के संस्थानीकरण को प्रोत्साहित करना है।

प्रधानमंत्री पुरस्कार वेब पोर्टल पर पंजीकरण और आवेदन करने की प्रक्रिया सोमवार से शुरू हो गई है। इस वेबसाइट पर 28 नवंबर तक पंजीकरण और आवेदन जमा किए जा सकते हैं।

इन पुरस्कारों के लिए प्रधानमंत्री पुरस्कार-2022 के तहत विजेता जिले को एक ट्रॉफी, एक प्रशस्ति पत्र और 20 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इस प्रोत्साहन राशि का प्रयोग लोक कल्याण से जुड़े क्षेत्र में किया जाएगा।

इस साल लोक प्रशासन में उत्कृष्टता के लिए 16 प्रधानमंत्री पुरस्कार दिए जाने हैं। इसके लिए एक अप्रैल 2020 से 30 सितंबर 2022 के विभिन्न जिलों द्वारा दिए गए कामों को आधार बनाया जाएगा। इन कामों में जिला प्रशासन का सुशासन, गुणात्मक उपलब्धियां और सरकारी योजनाओं का लाभ हर व्यक्ति को देना शामिल होगा।

गौरतलब है कि जल जीवन मिशन में हर घर तक शु़द्ध पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए केन्द्र सरकार की और से 15 अगस्त 2019 को इस योजना की शुरुआत की गई थी। जिला फरीदाबाद ने इस क्रम मे कार्य करते हुए हर घर तक नल से जल पहुंचाने मे सफलता हासिल की है।

Spread the love