वर्ष 2022 में फरीदाबाद पुलिस ने 1281 वाहनों का प्रदूषण का चालान काटकर 12810000 रुपए का लगाया जुर्माना

35 Views
  • अक्टूबर 2022 में 199 वाहनों का काटा गया प्रदूषण का चालान
  • अक्टूबर माह में पटाखों से प्रदूषण फैलाने वालों के खिलाफ 43 मुकदमे दर्ज
  • इस वर्ष 15 साल से पुराने 45 पेट्रोल तथा 10 डीजल वाहनों को किया गया इंपाउंड
  • प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों का 10000 का काटा जाता है चालान

फरीदाबाद : दिल्ली एनसीआर एरिया में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए जिला प्रशासन की तरफ से ग्रेप पॉलिसी लागू की जा चुकी है जिसके तहत शहर में प्रदूषण फैलाने वाले लगभग सभी कार्यों पर रोक लगाई गई है। वाहनों की बात करें तो यातायात पुलिस द्वारा प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों का ₹10000 का चालान काटा जा रहा है और 15 साल से पुराने डीजल व पेट्रोल वाहनों को इंपाउंड करके कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि डीसीपी ट्रैफिक नीतीश कुमार अग्रवाल के दिशा निर्देश के तहत फरीदाबाद पुलिस प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों के खिलाफ लगातार कार्रवाई कर रही है। नवीनतम आंकड़ों के अनुसार अक्टूबर माह में फरीदाबाद पुलिस ने 199 वाहनों का प्रदूषण का चालान काटकर 1990000 रुपए का जुर्माना लगाया है। इसके साथ ही दो इस माह में 15 वर्ष पुराने 2 पेट्रोल वाहनों को इंपाउंड किया गया है। वहीं वर्ष 2022 में अब तक 1281 वाहनों का चालान काटकर 12810000 रुपए का जुर्माना लगाया जा चुका है। 15 वर्षों से पुराने 45 पेट्रोल व 10 डीजल वाहनों को इंपाउंड करके कानूनी कार्रवाई की गई है। दीपावली के अवसर पर जिला प्रशासन द्वारा पटाखों को प्रतिबंधित किया गया था परंतु इसके बावजूद लोग पटाखे बना और बेच रहे थे इसलिए पटाखों से प्रदूषण फैलाने वालों के खिलाफ 43 मुकदमे दर्ज करके कानून के तहत कार्रवाई अमल में लाई गई है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि शहर में प्रदूषण का स्तर बहुत बढ़ गया है इसलिए घर से निकलते समय अपने चेहरे पर मास्क लगाएं ताकि प्रदूषण के कण सांस के माध्यम से आपके अंदर प्रवेश न कर सके और आप इससे सुरक्षित रह सके।

Spread the love