मोहित हत्याकांड में क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने फरार चल रहे नौवें आरोपी को किया गिरफ्तार

40 Views
  • 25 अक्टूबर 2022 की रात आरोपियों ने रंजिश के चलते कुल्हाड़ी व लाठी-डंडों से चोट मार कर कर दी थी देहा निवासी मोहित की हत्या

फरीदाबाद : डीसीपी क्राइम मुकेश कुमार मल्होत्रा के दिशा निर्देश के तहत कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच डीएलएफ प्रभारी राकेश कुमार की टीम ने 26 अक्टूबर को लाठी-डंडों से चोट मारकर की गई मोहित की हत्या के मामले में नौवें आरोपी को गिरफ्तार किया है। इस मामले में इससे पहले क्राइम ब्रांच द्वारा करण, मुकेश, कुणाल, राहुल, विशाल, सुमित, शुभम तथा निशांत सहित आठ आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम संजय (24) है जो फरीदाबाद के भुपानी का रहने वाला है। 26 अक्टूबर को मृतक मोहित की पत्नी द्वारा भूपानी थाने में शिकायत दी जिसमें उसने बताया कि 25/26 अक्टूबर की रात आरोपी व उसके 10-11 अन्य साथियों ने कुल्हाड़ी लाठी व डंडों से चोट मारकर मोहित तथा मोहित के साथी नवीन को गंभीर रूप से घायल कर दिया। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर मोहित और नवीन को अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टर ने मोहित को मृत घोषित कर दिया। पुलिस द्वारा मोहित के शव का पोस्टमार्टम करवा कर उनके परिजनों के हवाले किया गया। मोहित की पत्नी की शिकायत के आधार पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके उनकी तलाश शुरू की गई। इस मामले में कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने वारदात की मुख्य आरोपी करण को 26 अक्टूबर को ही गिरफ्तार कर लिया था। इसके पश्चात मामले में आगे कार्रवाई करते हुए पुलिस द्वारा अन्य आरोपियों को गिरफ्तार किया गया तथा अब मामले में आगे कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच ने कल तीसरे आरोपी संजय को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस पूछताछ में सामने आया कि दोनों पक्षों की किसी बात को लेकर रंजिश थी जिसके चलते आरोपियों ने मोहित की हत्या कर दी। मृतक मोहित (30) गांव देहा का रहने वाला था। मोहित के खिलाफ भी थाना भूपानी में लड़ाई झगड़े ,स्नैचिंग इत्यादि के पांच मुकदमे दर्ज हैं इसके अलावा थाना खेड़ी पुल में भी हत्या, स्नैचिंग, लड़ाई झगड़ा और अवैध हथियार सहित 4 मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी करण का दोस्त था और एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता था। वारदात की रात करण ने फोन करके संजय को झगड़े में बुलाया था जहां आरोपियों ने मोहित की पिटाई की थी जिससे मोहित की मृत्यु हो गई। आरोपी के कब्जे से वारदात में उपयोग एक डंडा बरामद किया गया है। आरोपी संजय के खिलाफ इससे पहले भी लड़ाई झगड़े का एक मुकदमा दर्ज है जिसमें आरोपी 1 साल की सजा काटकर जमानत पर बाहर आया हुआ था। पुलिस पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है तथा वारदात में शामिल आरोपी के अन्य साथियों की तलाश की जा रही है जिन्हें जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

Spread the love