क्राइम ब्रांच बॉर्डर टीम ने नशा तस्करी के मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर बरामद किए 3092 बुप्रेनो इंजेक्शन

15 Views
  • आरोपी अजय बिहार से कोरियर के माध्यम से मोहाली के रहने वाले मनोज को नशे के इंजेक्शन सप्लाई करता था जो फरीदाबाद में आरोपी रोहित को इसे आगे भेजता था !
  • गिरोह में शामिल आरोपी रोहित सस्ते दामों पर इंजेक्शन- मंगवाकर नशा तस्करी करता था आरोपी

फरीदाबाद : क्राइम ब्रांच सेक्टर बॉर्डर प्रभारी इंस्पेक्टर संदीप की टीम ने अवैध नशा तस्करी के मुकदमे में 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर नशे की बड़ी खेप बरामद की है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ़्तार किए गए आरोपियों में रोहित, मनोज उर्फ सादाब तथा अजय का नाम शामिल है। आरोपी रोहित फरीदाबाद के बडौली गांव का रहने वाला है। आरोपी मनोज पंजाब के मोहाली तथा आरोपी अजय बिहार के चंपारण का रहने वाला है। क्राइम ब्रांच की टीम ने 4 अक्टूबर को गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए आरोपी रोहित को बीपीटीपी एरिया से काबू किया था। आरोपी के कब्जे से स्कूटी में रखे बुप्रेनो नशे के 1600 इंजेक्शन बरामद किए गए। आरोपी से जब इसका लाइसेंस मांगा गया तो उसके पास इसके कोई दस्तावेज नहीं थे जिसके पश्चात आरोपी को काबू करके थाने लाया गया और उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके आरोपी को अदालत में पेश किया गया जहां से उसे 6 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी रोहित डी-फार्मा कर चुका है और आरोपी एक मेडिकल स्टोर पर काम करता था। आरोपियों का एक दूसरे से संपर्क व्हाट्सएप पर बनाए गए मेडिकल एसोसिएशन ग्रुप से हुआ था। आरोपी रोहित ने मोहाली के रहने वाले मनोज से संपर्क किया जो बिहार से आरोपी अजय से यह इंजेक्शन कोरियर के माध्यम से मंगवाता था। आरोपियों को पता था कि दिल्ली एनसीआर एरिया में इन इंजेक्शन की खपत बहुत है इसलिए वह पैसों के लालच में रोहित को फरीदाबाद में इंजेक्शन सप्लाई करते थे जो आगे इन्हे महंगे दामों पर बेचता था। आरोपी रोहित यह इंजेक्शन ₹22 में खरीद कर आगे नशेड़ीयों को 200 से 250 रुपए में बेचता था। पुलिस रिमांड के दौरान आरोपी मनोज की निशानदेही पर आरोपी मनोज को पंचकूला से गिरफ्तार किया गया। आरोपी मनोज के कब्जे से 1492 इंजेक्शन बरामद किए गए। आरोपी मनोज को भी अदालत में पेश करके पुलिस रिमांड पर लिया गया।

आरोपी मनोज ने बताया कि वह चंडीगढ़ एरिया में नशा सप्लाई करता है और रोहित द्वारा मंगवाने पर इसे फरीदाबाद भी भिजवाता है। आरोपी मनोज की निशानदेही पर आरोपी अजय को बिहार से गिरफ्तार किया गया। पुलिस पूछताछ में आरोपी अजय ने बताया कि उसका मेडिकल स्टोर है और वह पैसों के लालच में यह इंजेक्शन दिल्ली, फरीदाबाद, चंडीगढ़ एरिया में सप्लाई करता था। पुलिस पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

Spread the love