चांद दिखने के साथ अजमेर दरगाह में मिनी उर्स की शुरुआत

375 Views

अजमेर। चांद दिखाई देने के साथ ही अजमेर दरगाह में मुहर्रम मिनी उर्स प्रारंभ हुआ। मिनी उर्स के मौके पर देश के कौन कौने से जायरीन अजमेर पहुंचते हैं। जायरीन ठहराने के लिए यहां कायड़ विश्रामस्थली पर दरगाह कमेटी व जिला प्रशासन द्वारा इंतजाम किए जाते हैं।

जिला प्रशासन के रसद विभाग द्वारा विश्राम स्थली पर राशन की दुकानें खोलकर उचित मूल्य में जायरीन को रसद सामग्री उपलब्ध कराई जाती है। रविवार को कायड़ विश्रामस्थली पर स्थापित की गई दुकानों का दरगाह कमेटी के सदस्यों इंतजामों व दुकानों का निरीक्षण किया। 

दरगाह कमेटी सदस्य मुनव्वर खान ने बताया कि विश्राम स्थली पर शिकायत मिलने पर मेला अधिकारी हाकम खान व दरगाह के कर्मचारियों के साथ मौके मुआयना करने पहुंचे। उन्होंने जब दुकानदार से रसद सामग्रियों की कीमतें आम जायरीन की तरह पूछी तो सभी अधिकारी अचरज में पड़ गए। सरकारी दुकान पर रखा सामान बाजार दर से भी अधिक राशि पर बेचा जा रहा था।

मेला अधिकारी द्वारा उक्त दुकानदारों को जायरीन से अधिक राशि वसूलने पर फटकार लगाते हुए रसद विभाग के अधिकारियों को मौके पर बुलाकर विभागीय कार्रवाई करते हुए दुकानों को बंद करवाया गया। इसके साथ उन दुकानों पर सड़ी गली और खराब सब्जियों को बेचने के लिए रखा गया है। इस पर तुरन्त कार्यवाही अमल में लाते हुए रसद अधिकारी को सूचना दी गई।

रसद विभाग से नीरज जैन द्वारा मौके पर पहुंच कर मामले की पड़ताल की गई दालों पर निर्धारित दर से अधिक कीमत में बेचा जा रहा है, वही दूसरी दुकान पर पुरानी एवं सड़ी गली सब्जिय़ां बेची जा रही थी। ज्ञात हो कि आवंटित दुकानों पर सरकारी दर की सूची भी नहीं लगाई गई।

जायरीन के पहुंचने का सिलसिला जारी :

अजमेर दरगाह में मिनी उर्स में शरीक होने के लिए देश भर से जायरीन का पहुंचने का सिलसिला जारी है। कायड़ विश्रामस्थली पर रविवार तक 400 से अधिक बसे पहुंच चुकी है। साथ ही छोटे वाहनों से भी जायरीन अजमेर पहुंच रहे है। दरगाह कमेटी द्वारा जायरीन की समस्याओं के समाधान के लिए कर्मचारियों की नियुक्ति एम्बुलेंस तैनात की गई है जो कि जायरीन को विश्रामस्थली से जवाहरलाल नेहरू अस्पताल तक पहुंचाने के कार्य करेगी। केम्प में चिकित्सकों द्वारा मौसमी बीमारियों से संबंधित दवाईयां उपलब्ध करवाई जा रही है। यहां मौसमी बीमारियों से संबंधित सभी दवाइयां नि:शुल्क उपलब्ध कराई जा रही है। 

Spread the love