दिव्यांगों से किसी भी तरह का भेदभाव करने पर होगी कार्यवाही : राजकुमार मक्कड़

35 Views

– दिव्यांगों की समस्याओं को सुना और उनका समाधान किया

फरीदाबाद : सुशासन दिवस के उपलक्ष्य में नई संस्था के द्वारा से० 12 स्थित खेल परिसर में दिव्यांगों की समस्याओं के समाधान के लिए खुला दरबार व ” रन फॉर एबिलिटी ” के नाम से खेलकूद प्रतियोगिता के आयोजन किया गया। जिसमें हरियाणा राज्य दिव्यांगजन आयुक्त राज कुमार मक्कड़ ने आज सुशासन दिवस के अवसर पर सेक्टर 12 स्थित में दिव्यांगों की शिकायते सुनने के लिए खुले दरबार कार्यक्रम की अध्यक्षता की। जिसमें लगभग 70 लोगों की समस्याओं को सुना और उनका समाधान किया व जिला प्रशासन को सख्त आदेश दिया कि दिव्यांगों के मामले किसी भी प्रकार की कोई भी कोताही न बरते, दोषी पाए जाने पर सख्त कार्रवाई के आदेश दिए।

राजकुमार मक्कड़ ने कहाकि सरकार द्वारा दिव्यांगजनों को दी जा रही सभी सुविधाओं को यूनिक पहचान पत्र के साथ जोड़ा जाएगा। सरकार द्वारा दिव्यांगजनों को एक जनवरी 1996 से नौकरी व पदोन्नति का लाभ देने का फैसला लिया गया है तथा दिव्यांगजनों को 10 से 15 वर्ष तक आयु में छूट का प्रावधान भी है। दिव्यांगजन प्रमाणपत्र अब ऑनलाइन स्वावलंबन पोर्टल से बनाया जा सकेगा। दिव्यांगजनों को इस पोर्टल पर पंजीकरण करवाना होगा, जिसके उपरांत संबंधित अस्पताल से उन्हें जांच के लिए सूचना दी जाएगी। दिव्यांग जनों को नौकरी देने के लिए हरियाणा सरकार ने दो स्कीम में बनाई है पहले हर्षित रिटेल स्टोर जिसमें हरियाणा सरकार ने दिव्यांग जनों को 10% का आरक्षण दिया है और लोन के माध्यम से सरकार उनको सामान उपलब्ध कराएगी। अब तक हरियाणा में 2000 हर हित रिटेल स्टोर खोले गए हैं और आने वाले समय में इनकी संख्या लगभग 50000 हो जाएगी और दूसरी स्कीम है वीटा दूध के बूथ सरकार अब इसको स्कूल और कॉलेजों के साथ जुड़ेंगे ताकि बच्चों को पोषण वाली चीजें स्कूलों में भी मिले हरियाणा की पहचान है दूध दही का खाना जो कि वीटा दूध के बूथ माध्यम से पूरी होगी। हरियाणा सरकार ने दिव्यांग जनों की मदद के लिए दिव्यांग मित्र ऑनलाइन पोर्टल भी बनाया है इस पर कोई भी दिव्यांग अपनी समस्या बोलकर या लिखकर एससीपीडी.हरियाणा.जीओवी.इन पर भेज सकता है जिस पर जल्द से जल्द शिकायत का निपटारा किया जाएगा।

हरियाणा भंडारण निगम के चेयरमैन एवं पृथला विधानसभा क्षेत्र से विधायक नयनपाल रावत ने कहाकि आज का दिन इतिहास में बहुत बड़ा दिन है आज तुलसी पूजन के साथ स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपई का जन्मदिवस है और नई उड़ान संस्था द्वारा दिव्यांजनो के लिए आज जो प्रतियोगिता राखी गयी है वह कबीले तारीफ़ है और यह एक बहुत बड़ा आयोजन है। जबसे देश में मोदी जी की सरकार और प्रदेश में मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सरकार प्रदेश में बनी है दिव्यांजनो को मजबूत और सक्षम बनाने का कार्य लगातार किया जा रहा है। पहली की सरकार ने दिव्यांजनो के लिए कुछ नहीं किया लेकिन आज केंद्र और प्रदेश की सरकार इस देश में समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति के लिए, दिव्यांजनो के लिए एक से बढ़कर एक योजनाएं बनाकर उनको लागू कर रही है ताकि अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को समाज में बराबर खड़ा किया जा सके इस देश को नई पहचान दिलाकर इस देश को दुनिया का सशक्त देश बनाया जा सके। सरकार का मानना है कि अंतिम पंक्ति में खड़ा व्यक्ति भी काबिल और ताकतवर बनकर आगे बढ़े। दिव्यांग जनों का खेलों में हिस्सा लेना बहुत ही बड़ी बात है आज जीत या हार की परवाह किए बगैर आगे बढ़ने का लक्ष्य सामने रखें और आगे बढ़े। इस देश को आगे बढ़ाने में दिव्यांगजनों को भी बराबर का सहयोग समाज को हमेशा मिलता रहेगा।

विधायक नरेंद्र गुप्ता ने कहा कि नई उड़ान संस्था द्वारा जो यह कार्यक्रम आयोजित किया गया है यह बहुत ही काबिले तारीफ है। आज हमारे जिले के बहुत से दिव्यांग यहां आए हुए हैं और अपनी समस्याओं को यहां बता रहे हैं जिनमें से कुछ समस्याओं का निपटारा तो साथ के साथ ही किया जा रहा है कुछ का निपटारा आने वाले समय में किया जाएगा। माननीय मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में हरियाणा सरकार द्वारा दिव्यांग जनों को जो भी उनकी जरूरत की चीजें हैं उनको मिले ऐसे आदेश दिए गए हैं। सरकार के साथ-साथ समाज में ऐसे लोग हैं जो दिव्यांग जनों की समस्याओं को दूर करने के लिए हमेशा उनके साथ खड़े हैं। उन्होंने रेडक्रॉस के अधिकारियों को भी निर्देश दिए गए कि रेडक्रॉस द्वारा साल में 4 कैंप लगाए जाएं ताकि दिव्यांग जनों को उनकी जरूरत का सामान दिया जा सके।

मुख्यमंत्री के पूर्व राजनीतिक सलाहकार अजय गौड़ ने कहा कि आज हमारे पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई का जन्मदिवस एक स्मृति के रूप में सुशासन दिवस के नाम से पूरे देश में मनाया जा रहा है और मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा पंचकूला के एक कार्यक्रम से बहुत सी योजनाओं की शुरुआत करने जा रहे हैं। आज दिव्यांगों की समस्याओं के लिए जो खुले दरबार का आयोजन किया गया है जिसमें उनके द्वारा बताई गई समस्याओं को सुनकर उनका तुरंत ही निपटारा किया जा रहा है उन विराम पहले दिव्यांग जनों के लिए कहीं ना कहीं बहुत सी समस्याएं रहती थी लेकिन जब से देश में मोदी जी और प्रदेश में उन हो जी की सरकार आई है दिव्यांग जनों के लिए नई-नई योजनाएं लाने का निरंतर प्रयास किया जा रहा है और उसमें बहुत सफलता भी प्राप्त हुई है। दिव्यांग जनों के लिए बड़े-बड़े कैंप लगाए जा रहे हैं जिसमें उनकी सुविधा अनुसार उनको उनकी जरूरत का सामान दिया जा रहा है और उनको कई नौकरियां देने का भी प्रयास सरकार द्वारा किया जा रहा है आज हरियाणा सरकार में परिवार पहचान पत्र के माध्यम से हर व्यक्ति की आय को जांच कर परख कर और उन्हें अच्छी सुविधा मिले ताकि निचले स्तर का व्यक्ति भी समाज में आगे बढ़े इस दिशा में काम किया जा रहा है।

इसके बाद उपस्थित अतिथिगण ने ऐतिहासिक खेलकूद प्रतियोगिता को हरी झंडी दिखाई जिसमें व्हीलचेयर दौड़ 400 मीटर, बैसाखी दौड़ 100 मीटर, ब्लाइंड पर्सन दौड़ 100 मीटर, ऑर्थो दौड़ 100 मीटर और दो किमी जनरल दौड़ का आयोजन किया गया। जिसमे मुख्य रूप से अखिल, हरकुवर सिंह, अदिति सिंह, पंकज कुमार सिन्हा, श्रीराम यादव, जसबीर कौर, ओर विनोद कुमार, रोहित, शुशील, नासिर और रेनू बाला, रितिक, भूषण, सचिन, हरिओम, सचिन और सुभाष आदि लोगों ने मेडल जीते।

इस अवसर पर हरियाणा सरकार के मीडिया समन्वयक मुकेश वशिष्ठ, भाजपा व्यवसायिक प्रकोष्ठ के जिला संयोजक विमल खण्डेलवाल, मारवाड़ी युवा मंच के अध्यक्ष नारायण शर्मा, जिला रेडक्रास सोसायटी से बिजेंद्र सिंह सोरोत, डिप्टी सीएमओ, जिला अधिकारी समाज कल्याण अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, पीडब्ल्यूडी, स्पेशल अचीवर ग्रुप से माधवी हंस आदि विशेष रूप से उपस्थित रहे।

Spread the love