50 वर्षीय शख्स की गोलियों से भून कर हत्या!

543 Views

पलवल। पलवल के लोहागढ़ में जगपाल नाम के शख्स की उस समय गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई जब वे अपने घर पर थे। मृतक को पांच से छह गोली मार हमलावर मौके से फरार हो गए. हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले दो आरोपी यूपी पुलिस की वर्दी में थे जिन्हें मृतक की पत्नी जानती है। हरियाणा के पलवल में रविवार सुबह 50 वर्षीय शख्स की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई। पुलिस ने मृतक की पत्नी की शिकायत पर तीन नामजद सहित छह-सात अन्य लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

वारदात के दौरान जगपाल की पत्नी के शोर को सुनकर उसके पुत्र पुनीत, मनीष और पड़ोसी मौके पर पहुंचे। पिता जगपाल को लहूलुहान अवस्था में इलाज के लिए सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने पीडि़ता की शिकायत के आधार पर आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस ने बताया कि लोहागढ़ निवासी रजनी ने शिकायत दर्ज कराई है कि वे मूलरूप से गांव धनौरा जिला अलीगढ़ (यूपी) की रहने वाली हैं और पिछले आठ-दस वर्ष से अपने पति व बच्चों सहित गांव लोहागढ़ में रह रही हैं। रविवार सुबह पीडि़ता व उसके बच्चे और पति जगपाल उर्फ जगत सिंह घर पर मौजूद थे। सुबह करीब छह बजे चार व्यक्ति घर पर आए जो पीडि़ता के पति को घर से बाहर गेट पर बुलाकर ले गए। पीडि़ता ने पूछा कि उसके पति को कहां ले जा रहे हो, इतना कहते ही उन लोगों ने पीडि़ता के पति के सीने में ताबड़तोड़ गोलियां मार दीं।

पीडि़ता के पति जगपाल उर्फ जगत सिंह को गोली मारने वाले गांव धनौरा निवासी अमित, कुलदीप, सतीश व एक उनका अन्य साथी था जिसे वे नहीं जानतीं। इसके अलावा उनके पांच-छह अन्य साथी बाहर स्विफ्ट कार में बैठे हुए थे। वहीं, अमित व कुलदीप ने यूपी पुलिस की वर्दी पहनी हुई थी। पीडि़ता ने शिकायत में कहा कि यह हत्या पुरानी रंजिश के चलते की गई है और इस हत्या में मृतक जगपाल की पहली पत्नी हेमलता का भी हाथ है। आरोप है कि इन्हीं लोगों ने इसी तरह कुछ साल पहले जगपाल की मां श्रृंगारी देवी की भी उत्तर प्रदेश के गांव धनौरा में हत्या कर दी थी, जिसके बाद यह लोग पलवल में आकर रहने लगे थे।

Spread the love