21 वर्षीय डांस टीचर समेत 4 लड़कियों ने बताई घर से भागने की अजब वजह !

832 Views

गाजियाबाद। देश-दुनिया में टिकटॉक वीडियो (Tik Tok) बनाने को लेकर दीवानगी सिर पर चढ़कर बोल रही है। लोग ऐसे फनी वीडियो बनाने के लिए कोई भी कीमत चुकाने को तैयार दिख रहे हैं। भारत में ही कई लोग तो अपनी सरकारी नौकरी तक गवां चुके हैं। इस बीच देश की राजधानी दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में भी एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। दरअसल, यहां पर परिवार ने टिकटॉक विडियो बनाने और उसे सोशल मीडिया पर अपलोड करने से मना किया तो चार लड़कियां घर से भाग गईं, इनमें एक 21 वर्षीय डांस टीचर भी है। पूरा मामला गाजियाबाद के इंदिरापुरम का है। इसमें अच्छी बात यह है कि इंदिरापुरम से पांच दिन पहले लापता हुई चारों लड़कियां मिल गई हैं। बताया जा रहा है कि इनमें से दो नाबालिग हैं और सभी को मोहनगर इलाके से बरामद कर लिया गया।

बता दें कि लापता हुई चार में से दो बहनें हैं और इनमें से एक की उम्र 21 साल है और वह पेशे से डांस टीचर है। बालिग होने के चलते गाजियाबाद पुलिस ने टीचर के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया था।

पुलिस की मानें तो ये सभी लड़कियां 23 अगस्त को घर छोड़कर चली गई थीं, क्योंकि उनके परिवार ने उन्हें डांस वीडियो बनाकर टिकटॉक, यूट्यूब या अन्य सोशल नेटवर्किंग साइट पर अपलोड करने से मना किया था। वहीं, पिता ने लड़कियों की बरामदगी पर गाजियाबाद पुलिस का शुक्रिया अदा किया है। 

क्या है ‘टिक-टॉक’

गौरतलब है कि टिक-टॉक एक सोशल मीडिया ऐप्लिकेशन है, जिसके जरिए स्मार्टफ़ोन यूजर छोटे-छोटे वीडियो (15 सेकेंड तक के) बना और शेयर कर सकते हैं। इसका चलन फिलहाल भारत में तेजी से फैल रहा है। यहां पर बता दें टिक-टॉक मोबाइल से छोटे-छोटे वीडियो बनाने का कोई साधारण ज़रिया नहीं है। इसमें कोई बनावटीपन नहीं है, ये रियल है और इसकी कोई सीमाएं नहीं हैं। चाहें तो बनाए गए वीडियो को स्पेशल इफेक्ट फिल्टर, ब्यूटी इफ़ेक्ट, मज़ेदार इमोजी स्टिकर और म्यूज़िक के साथ एक नया रंग दे सकते हैं। और लोग  ऐसा कर भी रहे हैं। वहीं, फेसबुक, वाट्सऐप पर टिकटॉक वीडियो खूब शेयर किए जा रहे हैं।

Spread the love