19 बसों में सैकड़ों प्रवासी लोगों को उत्तर प्रदेश के ग्वालियर शहर के लिए भेजा गया

190 Views

फरीदाबाद, 12 मई। आयुक्त संजय जून ने कहा कि कोरोना जैसी परिस्थिति से बचाव के लिए सरकार व जिला प्रशासन की ओर से हरसंभव इंतजाम किए जा रहे हैं। लाॅकडाउन के माध्यम से लोगों को संदेश दिया गया कि वे हर स्थिति में अपने घरों में बने रहें तथा बाहर न आएं व सोशल डिस्टेंसिंग, बार-बार हाथों की सफाई अच्छी प्रकार से करते रहें। यह जागरूकता ही कोरोना से बचाव का तरीक है।

आयुक्त ने लघु सचिवालय में बीती सायं पत्रकारों से बातचीत में बताया कि जिला में कोरोना के जो भी पाॅजीटिव मामले सामने आएं हैं, वे अधिकतर किसी दूसरे से संपर्क के कारण ही संक्रमित हुए हैं। जिला प्रशासन की ओर से जिस भी क्षेत्र से पाॅजीटिव मामले सामने आएं है, वहां तुरंत कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं ताकि कोरोना का फैलाव अधिक न हो। इसी प्रकार इन क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग की टीमें घर-घर जाकर लोगों का स्वास्थ्य संबंधी सर्वे कर रही हैं तथा इंफ्लुएंजा के मरीजों का डाटा एकत्रित कर उनके स्वास्थ्य की जांच की जा रही है। लक्षण अधिक मिलने पर संदिग्ध मरीज का कोरोना टेस्ट भी करवाया जाता है। इसी प्रकार से प्रवासी श्रमिकों को भी उनके प्रदेशों व गांवों में ट्रेन व बसों के माध्यम से भेजने की व्यवस्था की जा रही है। इसके लिए प्रदेश सरकार की ओर से ई-दिशा पोर्टल शुरू किया गया है, जहां प्रवासी लोग अपना पंजीकरण करवा रहे हैं तथा प्रशासन उनकी सूची तैयार कर रहा है। इस अवसर पर उन्होंने फरीदाबाद के लोगों से भी अपील की कि वे अपने घरों में रहें, बहुत जरूरी न हो तो बाहर न आएं। बाहर आने पर हर हालत में मास्क का प्रयोग करें। सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करें। अपने हाथों को बार-बार साफ करते रहें। घर में अपना व बुजुर्गों का ख्याल रखें तथा अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि हरियाणा सरकार की ओर से प्रवासी श्रमिकों को उनके गांवों व प्रदेशांे में भेजने की व्यवस्था की जा रही है। इसके लिए ई-दिशा पोर्टल पर पंजीकरण करने वाले प्रवासी लोगों का डाटा एकत्रित कर उन्हें भेजने की व्ववस्था की जा रही है। इसके लिए जिला प्रशासन के अधिकारियों की डयूटी लगाई गई हैं। उन्होंने बताया कि 19 बसों में सैकड़ों प्रवासी लोगों को उत्तर प्रदेश के ग्वालियर शहर के लिए भेजा गया है। ये बसें फरीदाबाद शहरी क्षेत्र के रेलवे स्टेशन, एनआईटी, ओल्ड फरीदाबाद, अनखीर, तिलपत आदि से प्रवासी लोगों को लेकर ग्वालियर के लिए रवाना किया गया। उन्होंने बताया कि इससे पहले भी सोमवार को कोसी शहर, उत्तर प्रदेश के लिए चार बसों और रविवार को 12 बसों में सैकड़ों प्रवासी लोगों को कोसी भेजा जा चुका है। इनके अलावा गत सप्ताह बुलंदशहर, शामली, अमृतसर, ऋषिकेश आदि शहरों में भी प्रवासी लोगों को बसों के माध्यम से उनके प्रान्तों में भेजने की व्यवस्था की गई थी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *