हरियाणा में सरकार का नहीं, बल्कि अपराधियों का चलता है राज : डा सुशील गुप्ता

94 Views
  • अवैध खनन माफियों ने डीएसपी सुरेंद्र सिंह को डंपर से कुचला।

नई दिल्ली/हरियाणा 19 जुलाई। हरियाणा के नूंह में खनन माफियाओं द्वारा डीएसपी को डंपर से कुचलकर मार डालने को लेकर आम आदमी पार्टी के सांसद डा सुशील गुप्ता ने प्रदेश सरकार की कडी निंदा की है। डा गुप्ता ने कहा है कि हरियाणा प्रदेश में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की नहीं, बल्कि माफियाओं की सरकार चल रही है। तावड़ू इलाके के पंचगांव में पहाड़ी पर अवैध खनन करने वाले माफियाओं द्वारा डीएसपी सुरेंद्र सिंह को डंपर से कुचल कर मारने का यह ताजा उदाहरण है। मालूम हो डंपर से कुचले जाने की वजह से उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

उन्होंने कहा कि सीएम मनोहर लाल खटटर वारदात में दोषियों पर कड़ी कार्रवाई के आदेश देते है। लेकिन कार्यवाही करने से कतराते है। अगर खनन माफियाओं पर पहले से ही कडी कार्यवाही की होती तो आज डीएसपी सुरेंद्र सिंह जिंदा होते।

डीएसपी पंचगांव की पहाड़ी में बड़े स्तर पर चल रहे अवैध खनन को रोकने के लिए गए थे। उन्होंने मौके पर खनन कर रहे माफिया को रोकने का प्रयास किया तो उन लोगों ने उनपर पत्थरों से भरा डंपर चढ़ा दिया। वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए।

आम आदमी पार्टी के सांसद डा सुशील गुप्ता

पार्टी के हरियाणा प्रभारी डा गुप्ता ने कहा कि प्रदेश में खनन माफियाओं को सरकार का साथ मिला हुआ है। वरना क्या कारण है कि कैग द्वारा 2018 में 5 हजार करोड के घोटले को उजागर करने के बावजूद आज तक कोई कार्यवाही नहीं की गई। बल्कि वर्तमान में यह घोटला 50 हजार करोड तक जा पहुंचा है। यह पैसा सरकार के खजाने में आने की अपेक्षा प्रदेश के राजनेताओं और उच्च पदों पर बैठे पदाधिकारियों की झोली में जा रहा है।

डा गुप्ता ने कहा प्रदेश में महिलाओं, व्यापारियों की बात तो दूर अब विधायकों को भी सरे आम जान से मारने की धमकी मिलने लगी है। यह इस बात का सबूत है कि हरियाणा में चुनी सरकार नहीं, बल्कि बदमाशों का राज चल रहा है।

उन्होंने प्रदेश सरकार से जल्द से जल्द खनन माफियाओं पर नकेल कसने तथा डीएसपी सुरेन्द्र सिंह को इंसाफ देने और उनके हत्यारों को पकडने की मांग की है। अगर सरकार ने इस पर कुछ नहीं किया तो, आम आदमी पार्टी को मजबूर होकर सडकों पर उतरना पडेगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.