हम बापू के रामराज्य के समर्थक हैं : योगी आदित्यनाथ

319 Views

लखनऊ, 26 नवंबर ! उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वह समाजवादी नहीं बल्कि बापू के रामराज्य के समर्थक हैं, जो सर्वकालिक, सार्वभौमिक और शाश्वत हो । योगी ने संविधान दिवस के मौके पर आयोजित विधानमंडल के विशेष सत्र के दौरान सपा पर निशाना साधते हुए कहा, ‘आम आदमी की कोई जाति नहीं होती । हमने केन्द्र या प्रदेश की कोई योजना भाजपा के नाम पर नहीं चलायी । हम भी कर सकते थे लेकिन हमने नहीं किया ।’’

उन्होंने पूछा, ‘संविधान में समाजवादी शब्द कब जुड़ा। मैं सोशलिस्ट का नहीं बापू के रामराज्य का समर्थक हूं । कभी आप कांग्रेस की गोद में, कभी बसपा की गोद में जाते हैं । यह देश गांधी के रामराज्य की भावनाओं को लेकर आगे बढता है । उन्हीं भावनाओं को लेकर हम चल रहे हैं ।’’

योगी ने राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव की चर्चा में भाग लेते हुए कहा कि हमने संविधान ऐसा नहीं बनाया है कि कभी इसमें संशोधन नहीं हो सकता । न्याय, स्वतंत्रता, समता और बंधुता संविधान के मूल तत्व हैं । उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक को संविधान ये अधिकार देता है कि अलग अलग पृष्ठभूमि से आने के बावजूद प्रदेश के बारे में सोच पाते हैं और कार्य करते हैं । उत्तर प्रदेश विधानमंडल के लिए आज का दिन सुनहरा दिन है । भारत दुनिया की सभ्यताओं में प्राचीनतम सभ्यता और संस्कृति वाला देश है । उन्होंने कहा कि विविधता में एकता के दर्शन भारत में होते हैं । ये भारत के संविधान की ताकत है । उत्तर से दक्षिण, पूरब से पश्चिम पूरे देश को जोडकर चलने की ताकत इस संविधान में है ।

योगी ने कहा कि संविधान एक तरफ हमें मानवीय गरिमा और सुरक्षा की गारंटी देता है, दूसरी ओर नागरिकों के अधिकारों के प्रति सचेत करता है । हर नागरिक के लिए कुछ मूल तत्व भी संविधान ने निर्धारित किये हैं । उन्होंने कहा कि एक धारा जबर्दस्ती जोड़ दी गयी थी… संविधान के अनुच्छेद 35 ए, अनुच्छेद 370, उस समय बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर ने इस पर असहमति जताई थी और कहा था कि अनुच्छेद 370 कश्मीर के लिए विषबेल का कार्य करेगी, लेकिन उस समय की सरकार ने इस पर अपेक्षित ध्यान नहीं दिया । उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने कश्मीर में अनुच्छेद 370 को समाप्त किया । अनुच्छेद 35 ए को निरस्त करने के बाद कश्मीर में अब भारत का प्रत्येक कानून लागू होगा ।

Spread the love