सोनल गोयल ने धीमी गति पर असंतोष व्यक्त करते हुए कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए

123 Views

फरीदाबाद 11, नवम्बर। फरीदाबाद नगर निगम की आयुक्त सोनल गोयल ने अमृत योजना के तहत फरीदाबाद में चल रही परियोजनाओं केे तहत किए जा रहे कार्यों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए है। अमृत योजना के तहत किए जा रहे कार्यों के लिए राज्य सरकार द्वारा गठित उपसमिति की एक बैठक की अध्यक्षता करते हुए निग्मायुक्त ने कार्यों की धीमी गति पर असंतोष व्यक्त करते हुए इन कार्यों में तेजी लाने के निर्देश भी दिए हैं। यहां यह उल्लेखनीय है कि अमृत योजना के तहत फरीदाबाद में 84.87 करोड़ रूपये व 156.93 करोड़ रूपये की दो परियोजनाएं सीवरेज से सम्बन्धित तथा 90.52 करोड़ रूपये जलापूर्ति योजना और 21.68 करोड़ रूपये की गंदे पानी की निकासी की योजना क्रियान्वित की जा रही है और निर्धारित समय सीमा के तहत इन परियोजनाओं को जून 2020 तक पूरा किया जाना है।

निग्मायुक्त सोनल गोयल की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में मुख्य अभियन्ता रमेश मदान, शहरी स्थानीय निकाय निदेशालय के कार्यकारी अभियंता आनंद अग्रवाल, कार्यकारी अभियन्ता विजय ढाका, वाप्कोस कम्पनी की ओर से टीम लीडर आर.पी.गुप्ता के इलावा अभियन्ता अनिल मेहता, एस.के. अग्रवाल भी उपस्थित थे।

निग्मायुक्त सोनल गोयल ने बैठक में बताया कि मिर्जापुर स्थित मैन पम्पिंग स्टेशन की वर्तमान क्षमता 50 एम.एल.डी. से बढ़ाकर 100 एम.एल.डी. करने के प्रस्ताव को राज्य सरकार ने अनुमोदित कर दिया है। उन्होंने बताया कि 50 एमएलडी मुख्य पम्पिंग स्टेशन का कार्य प्रगति पर है और शेष 50 एमएलडी के लिए  10.69 करोड़ रूपये की अनुमानित लागत का अनुमान राज्य सरकार को भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि आज की बैठक में अमृत योजना केे तहत ही अतिरिक्त पानी  के लिए 45 टयूबवैल लगाने का निर्णय भी लिया गया है। इन सभी कार्यों पर लगभग 26 करोड़ रूपये की लागत आने का अनुमान है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *