सरकारी आवास को लेकर महिला आईएएस अफसरों के बीच विवाद !

326 Views

फरीदाबाद ! शहर में अलग-अलग विभागों में नियुक्त दो महिला आईएएस अधिकारियों के बीच सरकारी आवास को लेकर विवाद पैदा हो गया है। पूर्व निगम कमिश्नर अनीता यादव की फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण (एफएमडीए) का अतिरिक्त सीईओ बन वापसी होते ही सरकारी आवास को लेकर यह हाईप्रोफाइल ड्रामा शुरू हो गया है। नवनियुक्त निगम कमिश्नर सोनल गोयल गुरुवार दोपहर सरकारी आवास पर पहुंचीं और कैंप कार्यालय खुलवाकर उसमें घुस गईं। एफएमडीए की सीईओ अनीता यादव ने गोयल को फोन कर ऐसा न करने का सुझाव दिया लेकिन वह नहीं मानीं। इसके बाद अनीता यादव ने चीफ सेक्रेटरी, समेत अन्य अधिकारियों को पत्र लिख पूरे मामले की जानकारी देकर गोयल को रोकने की गुजारिश की। अब यह मामला डिवीजनल कमिश्नर के पास पहुंच गया है।

मामला दो आईएएस अधिकारियों का होने से कोई अधिकारी इस बारे में कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। एनजीटी की फटकार के बाद सरकार ने अनीता यादव का निगम कमिश्नर पद से 14 सितंबर को तबादला कर उन्हें डायरेक्टर हरियाणा टूरिज्म बना दिया था। उन्होंने 16 सितंबर को निगम कमिश्नर का चार्ज भी छोड़ दिया था। तीन दिन बाद ही सरकार ने उन्हें फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण के अतिरिक्त सीईओ के पद पर तबादला कर दिया। निगम सूत्रों की मानें तो अनीता यादव की फरीदाबाद वापसी की खबर मिलते ही निगम कमिश्नर सोनल गोयल शुक्रवार दोपहर बाद कमिश्नर के सरकारी आवास पर पहुंच गईं। उन्होंने कर्मचारियों को फटकार लगाते हुए कैंप आफिस खुलवाया और बैठ गईं। जबकि कर्मचारियों ने कहा कि अभी पूर्व निगम कमिश्नर ने आवास खाली नहीं किया है। उनका सामान यहीं रखा है। लेकिन गोयल नहीं मानीं। वह शाम तक कैंप आफिस में बैठी रहीं। इस दौरान अनीता यादव ने गोयल को फोन कर उन्हें ऐसा न करने का सुझाव दिया लेकिन वे नहीं मानीं।

Spread the love