शहीद हमारी भावी पीढ़ियों के लिए प्रेरणास्रोत : दुष्यंत चौटाला

46 Views
  • शाहजहापुर गांव में शहीद मनोज भाटी के घर पहुंचकर परिजनों को दी सांत्वना
  • कहा शाहजहापुर गांव के राजकीय स्कूल का नाम सरकार ने शहीद मनोज भाटी के नाम पर किया

फरीदाबाद : उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि शहीद हमारी भावी पीढ़ियों के लिए प्रेरणास्रोत हैं और हमें उन पर गर्व है। उन्होंने कहा कि देश की रक्षा में अपने प्राण न्यौछावर करने वाले शहीदों की बदौलत ही आज हम सुरक्षित हैं। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला जिला के गांव शाहजहांपुर में शहीद मनोज भाटी के घर जाकर उनके परिजनों को शोक व्यक्त कर रहे थे। भारतीय सेना में राईफलमैन मनोज भाटी व हांसी के निशांत मलिक 11 अगस्त की सुबह जम्मू कश्मीर के राजौरी में आतंकवादी हमले में सेना कैंप की सुरक्षा करते हुए शहीद हो गए थे।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि दुख की इस घड़ी में सरकार शहीद परिवार के साथ है और परिवार की हर संभव मदद की जा रही है। उन्होंने कहा कि शाहजहांपुर गांव के राजकीय स्कूल का नाम 24 घण्टे में शहीद मनोज भाटी के नाम रखा गया है। इसके अलावा सरकार की नीति के अनुसार शहीद परिवार को आर्थिक मदद व शहीद परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जा रही है। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने शहीद मनोज भाटी के पिता बाबूराम, उनकी धर्पमत्नी कोमल तथा मां सुनीता देवी,भाई सुनील व योगेश से मिलकर सांत्वना दी और ढांढस बंधाया। डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने उनके पड़ोसी राहुल भाटी के घर जाकर भी उनके परिवारजनों का ढांढस बंधाया। राहुल भाटी की खेतों से आते समय यमुना में डुबने से मौत हो गई थी।

इस अवसर पर जन नायक जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सरदार निशान सिंह, डाक्टर केसी बागंङ, अरविन्द भारद्वाज, ठाकुर राजा राम, तेजपाल डागर, दीपक मित्तल, अनिल भाटी, जजपा के जिला अध्यक्ष राजेश भाटिया, निवर्तमान पार्षद दीपक चौधरी, उमेश भाटी, मनिक मोहन शर्मा, डालचंद साहरण, कमल तंवर, गांव के पूर्व सरपंच नाहर सिंह, पूर्व सरपंच कृष्ण, भारती भाटी, राजकुमार भाटी, रूपचन्द भाटी, नारायणन सिंह, जगदीश भाटी, रणबीर भाटी, चरदान नम्बरदार सहित अनेक गणमान्य लोगों ने भी शोक व्यक्त किया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.