शराब के शौकिनों के लिए खुली दुकानें, भीड़ हुई जमा !

391 Views

चंडीगढ़। हरियाणा में सुबह सात बजे से शराब की दुकानें खुल गईं। फरीदाबाद में बाटा चौक, सेक्टर-23, एक नंबर तिकोना पार्क आदि कई दुकानों पर लोगों की भीड़ सुबह से ही जुटनी शुरू हो गई है। कंटेनमेंट जोन को छोडक़र सभी शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों में शाम सात बजे तक शराब खरीदी जा सकती है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अगुवाई में मंगलवार को हुई कैबिनेट बैठक में आबकारी नीति में संशोधन पर मुहर लगा दी गई थी। इस फैसले के मुताबिक शॉपिंग मॉल में शराब की बिक्री नहीं होगी। कोविड सेस के चलते देसी शराब की बोतल पांच रुपए, भारत में निर्मित अंग्रेजी शराब 20 रुपए और आयातित शराब की बोतल 50 रुपए और महंगी मिलेगी।

मनोहर कैबिनेट ने देसी शराब पर दो से पांच रुपए तक की बढ़ोतरी की है। देसी का पव्वा दो रुपए, अध्धा तीन और बोतल पांच रुपए और भारत में निर्मित अंग्रेजी शराब का पव्वा पांच, अधा दस और बोतल बीस रुपए महंगी मिलेगी। इसी तरह विदेशी शराब की पेटी को 600 रुपए महंगा किया गया है। पीने वालों को एक बोतल पर 50 रुपए कोविड सेस देना होगा। विदेशी शराब के अधे पर 25 रुपए की बढ़ोतरी होगी। कैबिनेट ने माइल्ड बियर पर दो और स्ट्रांग पर पांच रुपए कोविड सेस लगाया है।

कैबिनेट बैठक में दो मंत्री शराब ठेके शुरू करने के पक्ष में नहीं थे। उनका तर्क था कि ठेके खोलने से महामारी से निपटने की जंग में बाधा आ सकती है। हालांकि राजस्व को पूरा करने के लिए वह भी ठेके खोलने पर सहमत हो गए। आबकारी नीति 6 मई से लागू होकर अगले साल 15 मई तक जारी रहेगी। पहली बार आबकारी नीति साल के 11 दिन अधिक यानि 376 दिन लागू रहेगी।

जिन शराब ठेकेदारों ने अपनी दस फीसद फीस जमा कराई हुई है, वे आज से ठेके खोल सकेंगे। छह से 20 मई तक ठेकेदारों की एक्साइज फीस माफ की गई है। लॉकडाउन अवधि के दौरान की एक्साइज फीस उनसे नहीं ली जाएगी। प्रदेश सरकार ने दस फीसद राशि की दूसरी किस्त 15 मई तक जमा कराने को कहा है। सभी ठेकेदारों को केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी गाइड लाइन का पालन करना होगा। ठेके पर पांच से अधिक ग्राहक इक_े नहीं हो सकेंगे। सेल्समैन और ग्राहक दोनों का मास्क लगाना अनिवार्य होगा। शारीरिक दूरी सुनिश्चित करने के साथ ही रोजाना ठेकों को सैनिटाइज किया जाएगा।

कैबिनेट ने उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला की अध्यक्षता में कैबिनेट सब कमेटी बनाई है। कमेटी में परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा तथा खेल एवं युवा मामले राज्य मंत्री संदीप सिंह शामिल हैं। यह कमेटी सुनिश्चित करेगी कि ठेकों पर दिशा-निर्देशों की सख्ती से पालना हो। दिल्ली सहित कई राज्यों में जिस तरह से ठेके खुलने के बाद हालात बिगड़े, उसे देखते हुए यह कमेटी गठित की गई है ताकि प्रदेश में इस तरह के हालात पैदा न हों।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

5 Replies to “शराब के शौकिनों के लिए खुली दुकानें, भीड़ हुई जमा !”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *