विधानसभा चुनाव के लिए जिला में 193 माइक्रो ऑब्जर्वर नियुक्त

449 Views

फरीदाबाद , 16 अक्तूबर। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त अतुल द्विवेदी ने कहा कि
विधानसभा चुनाव-2019 को निष्पक्ष व पारदर्शी तरीके से संपन्न करवाने तथा मतदान प्रक्रिया पर नजर रखने के लिए जिला के सभी छः विधानसभा क्षेत्रों के लिए माइक्रो ऑब्जर्वर की नियुक्तियां की गई हैं, जिनका प्रथम रैण्डेमाइजेशन आज चुनाव पर्येवेक्षकों की उपस्थिति में किया गया है । ये नियुक्तियां   निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार की गई है । जिला के सभी छः विधानसभा क्षेत्रों के माइक्रो ऑब्जर्वर सामान्य ऑब्जर्वर की आंख-कान-नाक के रूप में अपनी भूमिका निभाएंगे।  जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्तअतुल द्विवेदी और चुनाव पर्येवेक्षको की उपस्थिति में बुधवार को  लघु सचिवालय स्थित जिला सभागार में माइक्रो ऑब्जर्वरो की नियुक्तियों के लिए प्रथम रैण्डेमाइजेशन किया गया ।  उन्होंने बताया कि जिला के सभी छः विधानसभा क्षेत्रों के लिए 193 माइक्रो ऑब्जर्वर  नियुक्त किये गए हैं। माइक्रो ऑब्जर्वरो  को चुनाव प्रक्रिया के संबंध में विधिवत् रूप से प्रशिक्षित भी  किया जाएगा । विधानसभा वार माइक्रो ऑब्जर्वर लगाने के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि  बङखल विधानसभा क्षेत्र में 25, बल्लभगढ़ विधानसभा क्षेत्र में 23, फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र में 21, फरीदाबाद एनआईटी में 34, पृथला विधानसभा क्षेत्र में 53 और तिगावं विधानसभा क्षेत्र में 37 माइक्रो आब्जर्वर मतदान के दिन लगाए जाएंगे । उन्होंने बताया कि माइक्रो ऑब्जर्वर निर्वाचन आयोग की ओर से यहां भेजे गए सामान्य चुनाव पर्यवेक्षक को मतदान प्रक्रिया की रिपोर्ट देने तथा मतदान में पोलिंग पार्टी का सहयोग करने में अपनी जिम्मेदारी निभाएंगे। इसके लिए माइक्रो ऑब्जर्वर्स को मतदान प्रक्रिया के बारे में संपूर्ण जानकारी होनी आवश्यक है। उन्होंने बताया  कि मतदाता फोटोयुक्त वोटर स्लिप के अलावा निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित 12 में से किसी एक पहचान पत्र दिखाकर मतदान कर सकेगा।

उपायुक्त ने बताया  कि 21 अक्तूबर को सुबह 7 से सायं 6 बजे के बीच मतदान करवाया जाएगा। इस दिन सभी माइक्रो ऑब्जर्वर्स अपने-अपने मतदान केंद्रों पर सुबह 6 बजे तक जरूर पहुंच जाएंगे, ताकि मोक पोल की प्रक्रिया उनकी देखरेख में हो सके। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि माइक्रो ऑब्जर्वर मतदान प्रक्रिया में पोलिंग पार्टियो के साथ अपनी भूमिका सही तरीके से निभाएंगे और पल पल की जानकारी सीधे आयोग को देते रहेंगे। वे यह भी सुनिश्चित करेंगे कि मोक पोल संपन्न होने के उपरांत तथा मतदान शुरू होने से पहले ईवीएम मशीन में क्लीयर का बटन जरूर दबाया जाए ताकि मोक पोल के दौरान डाले गए सभी वोट क्लीयर हो जाएं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक लोकेशन पर एक माइक्रो ऑब्जर्वर नियुक्त किया गया है, जो उस लोकेशन के अंतर्गत आने वाले सभी बूथों की निगरानी करेगा। उन्होंने बताया कि माइक्रो ऑब्जर्वर द्वारा मतदान के दिन भरे जाने वाले फार्म व उनके कॉलम के संबंध में उन्हें विशेष हिदायतें दी जाएगी । उन्होंने बताया  कि माइक्रो ऑब्जर्वर अपने-अपने मतदान केंद्रों पर मतदान की गोपनीयता भी सुनिश्चित करेंगे । वे यह ध्यान रखेंगे कि मतदान के दौरान ईवीएम मशीन के पास मतदाता के अलावा कोई और व्यक्ति न जाने पाए और ईवीएम की टेबल किसी खिडक़ी या खुली जगह की तरफ न लगाई गई हो, जहां से कोई अन्य व्यक्ति वोटर को मतदान करते हुए देख सके। मतदान की गोपनीयता रखी जानी जरूरी है ।  

उन्होंने कहा कि माइक्रो ऑब्जर्वर मतदान संपन्न होने के उपरांत प्रत्याशियों के पोलिंग एजेंटो को 17-सी फार्म भी उपलब्ध करवाना सुनिश्चित करेंगे । उन्होंने बताया कि माइक्रो ऑब्जर्वर चुनाव में चुनाव आयोग के प्रतिनिधि के रूप में पूरी प्रक्रिया पर नजर रखने का कार्य करेंगे। यदि कहीं भी मतदाताओ को पैसे बांटकर, शराब या उपहारों के वितरण आदि से लुभाने की कोशिश होगी, तो उसकी सूचना तत्काल चुनाव आयोग को देंगे । वे सुबह से लेकर शाम तक पोलिंग पर निगरानी रखेंगे। रैण्डेमाइजेशन के दौरान पृथला व बल्लभगढ़ विधान सभा क्षेत्र के  सामान्य पर्यवेक्षक डॉ समित शर्मा , फरीदाबाद एनआईटी व फरीदाबाद विस क्षेत्र के सामान्य पर्यवेक्षक रवि डाफरिया  , बङखल व तिगावं  विस के सामान्य पर्यवेक्षक सतेन्द्र कुमार सिंह के अलावा रिटरनिगं अधिकारी एवम अतिरिक्त उपायुक्त धर्मेन्द्र सिंह , उप ज़िला निर्वाचन अधिकारी एवं सीटीएम बैलीना, डीआईओ एलएन मित्तल तथा चुनाव तहसीलदार दिनेश कुमार सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी भी मौजूद थे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *