वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने की रूपरेखा तय करने के लिए अधिकारियों की बैठक

511 Views

फरीदाबादए 15 अक्टूबर। फरीदाबाद नगर निगम की आयुक्त सोनल गोयल ने कहा है कि एनजीटी ‘नेशनल ग्रीन टिब्यूनल’ पर्यावरण प्रदूषण रोकथाम एवं नियंत्रण अथोरटी ग्रेप और हरियाणा सरकार के दिशानिर्देशों के अनुसार फरीदाबाद नगर निगम दृढ इच्छा शक्ति का परिचय देते हुए अपने उपलब्ध संसाधनों के माध्यम से शहर को वायु प्रदूषण से बचाने का अधिकाधिक प्रयास करेगा। संभावित वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने की रूपरेखा तय करने के लिए निगम मुख्यालय स्थित अपने कार्यालय में अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बात कहीं। निग्मायुक्त की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में निगम सचिव जितेन्द्र दहियाए अतिरिक्त आयुक्त विक्रम, संयुक्त आयुक्त प्रशांत अटकान व गगनदीप सिंह, मुख्य अभियंता रमेश चंद मदान, अधीक्षण अभियंता बीरेन्द्र कर्दम, स्वास्थ्य अधिकारी डा. उदयभान शर्मा, कार्यकारी अभियंता ओमवीर सिंह, श्याम सिंह, दीपक किंगर, विजय ढाका, धर्म सिंह, रवि शर्मा व संजीव कुमार उपस्थित थे।

निग्मायुक्त ने कहा कि अतिरिक्त आयुक्त विक्रम नगर निगम क्षेत्र में वायु प्रदूषण के लिए निगम प्रशासन के द्वारा किए जा रहे सभी कार्यों की मुख्य अभियंता डी आर भास्कर व रमेश मदान की सहायता से देखरेख करेंगे। उन्होंने एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए शहर की मुख्य-मुख्य सडक़ों पर सुबह सफाई का कार्य शुरू होने से पूर्व प्रात: 4.00 बजे से 8.00 बजे के बीच पानी का छिडक़ाव करने के निर्देश दिए। उन्होंने रोड़ स्वीपिंग मशीनों के द्वारा मुख्य-मुख्य सडक़ों की सफाई करने के निर्देेश भी दिए, जिसके लिए निगम के तीनों जोनों में एक-एक मशीन उपलब्ध करवाई जाएगी। निग्मायुक्त ने निगम क्षेत्र में कूढ़े को जलाने की घटनाओं को सख्ती से रोकने के लिए सहायक सफाई निरीक्षक से लेकर कार्यकारी अभियंता तक की डयूटी लगाते हुए इन्हें कूढ़ा जलाने वाले लोगों के निरंतर चालान करने व आवश्यकता पढऩे पर इनके विरूद्ध एफआईआर दर्ज करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने खुले में पड़ी हुई निर्माण सामग्री को ढक़वाने के निर्देश भी संबंधित कार्यकारी अभियंताओं व स्वास्थ्य अधिकारी को दिए और ऐसा न करने वाले दुकानदारों व भवन निर्माणकत्र्ताओं के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए। निग्मायुक्त ने पूरे निगम क्षेत्र में पेड़ों पर पानी का छिडक़ाव के निर्देश भी अधिकारियों को दिए।

निग्मायुक्त सोनल गोयल ने बैठक के अंत में अत्यधिक कठोर शब्दों में बैठक में उपस्थित अधिकारियों को चेताया कि फरीदाबाद के लिए अन्य सरकारी विभागों की तुलना में फरीदाबाद नगर निगम की सबसे अधिक महत्वपूर्ण भूमिका है और ऐसे में यदि निगम अधिकारियों की काम करने की शैली नहीं बदली तो शहर में सुधार नहीं हो पाएगा। उन्होंने चेतावनी दी कि उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों को जहां सम्मानित किया जाएगाए वहीं काम में कोताही बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने शहरवासियों से भी अपील की है कि सिंगल यूज प्लास्टिक व पोलिथिन का संपूर्ण बहिष्कार करने के साथ-साथ संभावित वायु प्रदूषण के दृष्टिगत प्रदूषण फैलाने वाले गतिविधियों से बचें।

Spread the love