राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय एन एच तीन फरीदाबाद में फल देने वाले पौधे रोपे गए

196 Views

फरीदाबाद : जिला रेडक्रॉस सोसायटी फरीदाबाद के निर्देशानुसार राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय एन एच तीन फरीदाबाद में जूनियर रेडक्रॉस गाइड्स और सैंट जॉन एंबुलेंस ब्रिगेड के संयुक्त प्रयास से प्राचार्य रविंद्र कुमार मनचन्दा की अध्यक्षता में एक पौधा शहीदों के नाम के अंतर्गत फल वाले, हेज और छायादार पौधे रोपे गए। जूनियर रेडक्रॉस और ब्रिगेड प्रभारी प्राचार्य रविंद्र कुमार मनचन्दा ने बताया कि शहीदों की याद में ये पौधे हमें देश और पर्यावरण के प्रति अपने कर्तव्य का बोध कराते हैं। ये पौधे हमें देश पर कुर्बान हुए वीरों के प्रति कृतज्ञ रहने की सीख देते हैं। विद्यालय परिसर में छायादार और फल वाले पौधे जैसे जामुन, आम, अनार, बड़ और हेज के पौधे लगाते हुए प्राचार्य रविंद्र कुमार मनचन्दा ने कहा कि विद्यालय से प्राध्यापिका डॉक्टर जसनीत कौर, पूनम, अंशुल, मंजू, संजय मिश्रा, दीपक मदान, रामकृपाल सहित समस्त स्टाफ ने सहयोग करते हुए पौधे रोपे।

रविंद्र कुमार मनचन्दा ने कहा कि जिला रेडक्रॉस के निर्देशानुसार ये सभी पौधे लगाए जा रहे हैं वर्षा ऋतु में पौधे रोपे जाने का विशेष लाभ यह है कि पौधे बहुत जल्दी वृद्धि प्राप्त कर फलने फूलने लगते है। उन्होंने कहा कि पॉल्युशन को समाप्त करने का सबसे सटीक उपाय यही है पीपल, बरगद व वटवृक्ष आदि के पौधे रौपें। ये पौधें न केवल वायु प्रदूषण समाप्त करते हैं बल्कि पर्याप्त मात्रा में वर्षा लाने में भी सहायक होते हैं। सब से बड़ी बात यह है कि पौधे हमें सदैव कुछ न कुछ देते है बदले में कुछ भी तो नही लेते। इसलिए समय की आवश्यकता और अपने व आने वाली पीढिय़ों के लिए जब भी परिवार में प्रसन्नता का अवसर आए पौधा लगाएं, घर में किसी सदस्य का जन्मदिन हो, वैवाहिक वर्षगाँठ हो या कोई सफलता मिली हो, पौधा रौपें तो और भी प्रसन्नता मिलती है।

प्राचार्य रविंद्र कुमार मनचन्दा ने बताया कि आज विद्यालय में एक पौधा शहीदों के नाम अभियान मंगलवार भी जारी रहेगा। शहीदों के सम्मान में पौधरोपण करना हम सभी के लिए गर्व का विषय है। शहीदों के नाम पौधरोपण अभियान में ऑक्सी वन लगाने के लिए पीपल, बरगद आदि के पौधे लगा कर विकसित करने का दायित्व अध्यापकों को सौंपा गया। प्राचार्य रविंद्र कुमार मनचन्दा ने प्राध्यापिका डॉक्टर जसनीत कौर सहित सभी का ऑक्सी वन विकसित करने में दायित्व लेने और सहयोग करने के लिए आभार व्यक्त किया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published.