मोबाइल में कार्टून देखते-देखते खिडक़ी से गिरा 2 साल का मासूम, हुई मौत

366 Views

गुजरात : गुजरात के सूरत से हैरान करने वाली घटना सामने आई। 2 साल का बच्चा चौथी मंजिल से गिरा। वहां से गुजर रहे राहगीर ने बच्चे को उठाया। अस्पताल में 55 घंटे तक इलाज चला। लेकिन आखिर में बच्चे ने दम तोड़ दिया।

इसे एक मां की गलती कहें या मजबूरी। सिर्फ 2 साल के बच्चे को व्यस्त रखने के लिए एक मां ने मोबाइल फोन पकड़ा दिया। इसके बाद मां बाथरूम में चली गई। वहीं, फोन पर कार्टून देखते हुए मासूम बालकनी के पास वाली खिडक़ी पर पहुंच गया। गलती से खिडक़ी खुली हुई थी। उसी समय बच्चा कार्टून देखने में उलझा हुआ था और खिडक़ी से होते हुए चौथी मंजिल से नीचे गिर गया। वहां से गुजर रहे एक युवक ने बच्चे को देख लिया और तुरंत गोद में उठा लिया।

वो शोर मचाने लगा तब पड़ोसियों ने बच्चे की मां का दरवाजा खटखटाया तो घटना की जानकारी हुई। बच्चे को एक अस्पताल में भर्ती कराया गया। वो 55 घंटे तक जिंदगी और मौत से लड़ता रहा। लेकिन आखिर में मासूम को मौत को मिली। अब वो बदनसीब मां सदमे में है।

एक महीने पहले ही फ्लैट में आया था परिवार : ये दिल दहलाने वाली घटना गुजरात के सूरत की है। यहां सूरत शहर के लिंबायत इलाके में वसीम अंसारी का परिवार रहता है। परिवार में पत्नी और दो बेटे हैं। हादसा 11 सितंबर का है। उस समय बड़ा बेटा घर से बाहर खेलने गया था, जबकि 2 साल का छोटा बेटा वारिस घर पर ही मां के साथ था। पिता वसीम टाइल्स का काम करते हैं, वह काम पर चले गए थे।

बताया जा रहा है कि वसीम का परिवार इस अपार्टमेंट में किराए पर रहता है। वह करीब एक महीने पहले ही यहां शिफ्ट हुए थे। परिवार के लोगों ने बताया कि प्लैट में खिडक़ी के पास ही पलंग रखा है। खिडक़ी में दो ग्रिल के बीच में काफी खाली स्थान था, इसलिए खिडक़ी को बंद रखते थे। लेकिन उस दिन खिडक़ी खुली रह गई थी।

ऐसे हुआ हादसा : घरवालों ने बताया कि शनिवार को मां घर का काम कर रही थी तभी बच्चा काफी परेशान कर रहा था। उसी दौरान मां को बाथरूम में जाना था, इसलिए बच्चे के हाथ में मोबाइल फोन पकड़ा दिया। फोन में कार्टून भी लगा दिया। इसे देख बच्चा खुश हो गया और बालकनी वाले कमरे में चला गया। मां बाथरूम में चली गई। कुछ देर बाद ही जब दरवाजे को आसपास के लोग खटखटाने लगे तब मां को घटना की जानकारी हुई।

दरअसल, उस समय फ्लैट के नीचे से गुजर रहे एक राहगीर ने देखा कि बच्चा ऊपर से नीचे गिर रहा है। उसने बताया कि बच्चा चौथी मंजिल से गिरा और दूसरी मंजिल की बालकनी से टकराते हुए नीचे पहुंचा।

बच्चे को गिरते ही उसने तुंरत गोद में उठा लिया और फिर लोगों को आवाज देकर बुलाया। बच्चे को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां 55 घंटे तक इलाज किया हुआ लेकिन जान नहीं बचाई जा सकी।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published.