मानसून के मौसम में बीमारियों को लेकर सतर्क रहने की जरूरत : उपायुक्त

63 Views
  • उपायुक्त ने कहा, बरसात के मौसम में मच्छरों की वजह से हो जाती है बीमारियां
  • घरों के आसपास खड़े पानी में डाले मिट्टी का तेल, पेट्रोल अथवा डीजल

फरीदाबाद, 25 जुलाई। उपायुक्त जितेन्द्र यादव ने कहा कि मानसून के दौरान बरसात के दिनों में मच्छर पनपने लगते है, जो विभिन्न बीमारियों का कारण बन जाते है। उन्होंने कहा कि मानसून के मौसम में प्रतिवर्ष अनेक बीमारी भी दस्तक दे देती हैं। बीमारी की रोकथाम के लिए जरूरी है कि नागरिक सप्ताह में एक दिन अपने घर में सूखा दिवस मनाएं। साथ ही घर के आस-पास जमा पानी में ट्रैक्टर या मोटरसाइकिल के इंजन से निकला पुराना तेल, पेट्रोल या डीजल भी डाल सकते हैं।

डिप्टी सीएमओ कम् मलेरिया के नोडल अधिकारी डॉ. राम भगत ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि सभी अपने घरों, गलियों के आसपास पानी एकत्रित न होने दें। मच्छर ठहरे हुए पानी में अंडा देते हैं, जिससे मलेरिया व डेंगू की बीमारी फैलने का अंदेशा बना रहता है। बदलते मौसम के कारण नागरिक पानी के सभी बर्तनों, कूलर, टंकी, फ्रिज ट्रे, गमले आदि को तुरंत खाली करके सुखाएं, क्योंकि बीमारी फैलाने वाला मच्छर इन्हीं स्थानों पर जमा हुए पानी में पनपता है। बरसात के चलते लोगों के कूलरों, पुराने टायरों और गमलों में पानी जमा होने के चलते मच्छरों और जल जनित बीमारियों की आशंका बनी रहती है, ऐसे में हमें बीमारियों से बचाव को लेकर सावधानी बरतनी होगी। क्षेत्र को स्वच्छ बनाने के लिए प्रत्येक व्यक्ति को अपनी सक्रिय भागीदारी निभानी है, ऐसे में इस पुनीत अभियान को सफल बनाने के लिए स्वच्छता बनाये रखने के लिए स्वयं के अलावा दूसरे लोगों को प्रेरित करना है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.