ब्लिंकिट कंपनी लूट मामले में क्राइम ब्रांच 30 ने 2 आरोपियों को किया गिरफ्तार

77 Views
  • 2 आरोपियों को पहले ही किया जा चुका है गिरफ्तार

फरीदाबाद : डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादयान द्वारा लूट, चोरी, स्नैचिंग इत्यादि वारदातों में संलिप्त आरोपियों की जल्द से जल्द धरपकड़ के दिशा निर्देश के तहत कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच 30 प्रभारी रविंद्र सिंह की टीम ने 5 दिन पहले सराय एरिया में स्थित ब्लिंकिट इ कॉमर्स कंपनी में की गई लूट मामले में दो ओर आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों में नीरज तथा अकाश का नाम शामिल है। आरोपी नीरज उत्तर प्रदेश के मेहरामपुर गांव का रहने वाला है वही आकाश दिल्ली के हरिनगर में रह रहा था। क्राइम ब्रांच द्वारा इस वारदात में शामिल आरोपी आशीष तथा श्रवण को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। आरोपियों ने दिनांक 22 23 मई की रात सराय एरिया में स्थित ब्लिंकिट ई कॉमर्स ग्रॉसरी कंपनी में घुसकर लूट की वारदात को अंजाम दिया था।

कंपनी के मैनेजर की शिकायत के अनुसार रात करीब 12:00 बजे आरोपियों ने कंपनी के अंदर घुसकर वहां पर मौजूद सिक्योरिटी गार्ड पर लाठी-डंडे से हमला किया तथा उन्हें धमकाकर कैश लॉकर की चाबी ले ली और लॉकर में रखे 4.50 लाख रुपए तथा सीसीटीवी डीवीआर को लूटकर अपने साथ ले गए। कंपनी मैनेजर की शिकायत के आधार पर पुलिस थाना सराय में लूट तथा स्नैचिंग की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू की गई।

क्राइम ब्रांच की टीम ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए दिनांक 26 मई को मामले में शामिल आरोपी आशीष को देसी कट्टे सहित फरीदाबाद गुड़गांव टोल से गिरफ्तार कर लिया और उसके पश्चात उसकी निशानदेही पर आरोपी श्रवण को भी काबू किया गया। आरोपियों को अदालत में पेश करके 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया जिसमें आरोपियों के कब्जे से वारदात में प्रयोग मोटरसाइकिल तथा एक लाख 40 हजार रुपए बरामद किए गए।

पुलिस रिमांड के दौरान आरोपियों से उनके साथियों के बारे में जानकारी हासिल करके मामले में शामिल आरोपी नीरज को उत्तर प्रदेश के उसके गांव तथा आकाश को पल्ला एरिया से गिरफ्तार किया गया। पुलिस रिमांड खत्म होने के पश्चात आरोपी आशीष तथा श्रवन को आज जेल भेजा गया है वही बाकी बचे हुए पैसों की बरामदगी के लिए आरोपी नीरज तथा आकाश को 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है जिसमें मामले में गहनता से पूछताछ करके उनसे सीसीटीवी कैमरे तथा डीवीआर इत्यादि बरामद किया जाएगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.