बल्लभगढ़ पंचायत भवन के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार की अग्नीपथ योजना के विरोध में दिया धरना

64 Views

बल्लभगढ़, 27 जून : पंचायत भवन के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार की अग्नीपथ योजना के विरोध में धरना दिया। कांग्रेस पार्टी द्वारा आयोजित इस धरने में बड़ी संख्या में बल्लभगढ़ व पृथला विधानसभा क्षेत्र के लोगों ने भाग लिया। इस धरने में कई सेवानिवृत्त फौजियों ने भी भाग लिया। कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने हाथों में तख्तियां लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर अपना विरोध जताया।

इस अवसर पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पृथला के पूर्व विधायक रघुवीर तेवतिया ने कहा कि अग्निपथ योजना युवाओं के हितो पर कुठाराघात है। देश में बढ़ती हुई बेरोजगारी पर तो केंद्र सरकार कोई कदम नहीं उठा रही अपितु रोजगार छीनने का काम कर रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सत्ता में आने से पहले हर साल युवाओं को 2 करोड़ रोजगार देने का वायदा किया था और अब अग्निपथ जैसी योजनाएं ला कर युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ कर रहे हैं। अग्नीपथ योजना का सेवानिवृत्त फौजी भी विरोध कर रहे हैं। देश में कई नौजवानों ने आत्महत्या जैसे कदम उठाए हैं फिर भी मोदी सरकार आंखें मूंदे बैठी है। सरकार इस योजना को वापिस लेकर पुरानी व्यवस्था से तुरंत भर्ती शुरू करे अन्यथा देश का युवा उन्हें कभी माफ नहीं करेगा और युवावर्ग भाजपा सरकार का सिंहासन हिला देगा।

धरने पर बैठे कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बल्लभगढ़ की पूर्व विधायक शारदा राठौर ने कहा की देशव्यापी बेरोजगारी मोदी सरकार की विफलता का जीता जाता उदाहरण है। जिन युवाओं ने भाजपा को वोट दिया उन्ही युवाओं के साथ भाजपा सरकार ने धोखा किया है। अग्नीपथ योजना के तहत युवाओं को न तो रैंक न पेंशन न मेडिकल सुविधा और न ही कैंटीन की सुविधा मिलेगी और युवा 4 साल में ही रिटायर होकर अपने घर आ जाएंगे। जो युवा बरसों से सेना में भर्ती होने की तैयारी कर रहे हैं, उनकी कुंठा और निराशा को मोदी सरकार कैसे दूर करेगी। फौजी कहलाना युवाओं का सपना होता है जिसे मोदी सरकार ने चकनाचूर कर दिया है। किसान बिल की तरह अग्नि पथ योजना भी सरकार को वापिस लेनी पड़ेगी। कांग्रेस पार्टी इस युवा विरोधी अगनिपथ योजना का लगातार विरोध करती रहेगी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.