बरसात के मौसम में जलभराव रोकने के लिए फ्लड कंट्रोल सेल गठित : जितेंद्र यादव

90 Views
  • शहर में जलभराव वाले 25 स्थानों को किया गया चिन्हित, सभी प्वाइंटों पर ड्यूटी मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारियों की होगी नियुक्ति
  • बरसात की संभावना पर फ्लड कंट्रोल सेल की टीमें तुरंत होंगी एक्टिव, निर्धारित प्वाइंटों पर रहेंगी मौजूद
  • बरसात के दौरान मदद के लिए सिविल डिफेंस के 100 वालियंटर भी किए जाएंगे नियुक्त

फरीदाबाद : उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि बरसात के दौरान शहर में जलभराव की किसी भी समस्या से निपटने के लिए फ्लड कंट्रोल सेल गठित किया गया है। इसमें पुलिस, नगर निगम और राजस्व विभाग मुख्य तौर पर काम करेंगे और बिजली निगम, एचएसवीपी, स्मार्ट सिटी व एफएमडीए सहित अन्य विभागों की भी मदद ली जाएगी। उपायुक्त जितेंद्र यादव लघु सचिवालय स्थित कांफ्रेंस हाल में जिला में बाढ़ नियंत्रण कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।

मीटिंग के दौरान उपायुक्त ने कहा कि बरसात के दिनों में शहर से तुरंत जल निकासी की व्यवस्था करना हमारी जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि इसके लिए सभी विभागों को मिलकर कार्य करना होगा। हमें इस कार्य में जनभागीदारी को भी शामिल करना होगा। ऐसे में निर्णय लिया गया है कि शहर में इस कार्य के लिए 100 सिविल डिफेंस वालियंटर पुलिस की मदद करेंगे। मीटिंग के दौरान पुलिस विभाग द्वारा प्रस्तुत की गई प्रेजेंटेशन के आधार पर 25 ऐसे प्वाइंट चिह्नित किए गए हैं जहां पर जलभराव की समस्या रहती है। उन्होंने कहा कि इन सभी स्थानों पर पुलिस के एसएचओ स्तर के अधिकारी और 25 ही ड्यूटी मैजिस्ट्रेट नियुक्त किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि डीसीपी व एसडीएम की संयुक्त टीम भी इस कार्य के लिए गठित की जाएगी। मीटिंग में एनएचएआई के अधिकारियों ने बताया कि शहर में बदरपुर बॉर्डर से लेकर बल्लभगढ़ तक 10 स्थानों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम तैयार किए जा रहे हैं। इससे काफी हद तक राष्ट्रीय राजमार्ग पर जलभराव से मुक्ति मिलेगी। उन्होंने बताया कि एस्कॉर्ट्स के सामने एक रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बेहतर ढंग से कार्य कर रहा है। इस दौरान उपायुक्त ने बताया कि जल्द ही बदरपुर बॉर्डर से बल्लभगढ़ तक वह स्वयं सभी अधिकारियों के साथ एक संयुक्त दौरा करेंगे और जहां-जहां जलभराव की समस्या आ रही है इसके लिए निर्देश दिए जाएंगे।

उपायुक्त ने मीटिंग में नगर निगम व एनएचएआई के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह नालों की सफाई के कार्य को तेज करें ताकि बरसात से पहले सभी सफाई के कार्य पूरे किए जा सकें।

मीटिंग में अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रजा, नगर निगम के संयुक्त आयुक्त अभिषेक मीणा, डीसीपी एनआईटी हितेश अग्रवाल, डीसीपी सुरेश कुमार, एसडीएम परमजीत चहल, एसीपी देवेंद्र, एसीपी सुरेंद्र कुमार, तहसीलदार नेहा, एनएचएआई के पीडी धीरज कुमा सहित सभी विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.