पुलिसकर्मियों को दिया घायलों के इलाज का प्रशिक्षण

103 Views

फरीदाबाद। मोल्डबंद रोड, बाइपास रोड स्थित यूनिवर्सिल अस्पताल की ओर से लोगों को सेहत के प्रति जागरूक रखने के लिए सेक्टर 12 स्थित लघुसचिवालय में ट्रेनिंग का आयोजन किया गया। इसमें लघुसचिवालय के कर्मियों को आपदा से निपटने की ट्रेनिंग दी गई। हार्ट सर्जन डॉ. शैलेष जैन ने कर्मचारियों को जानकारी दी कि यदि मरीज की हृदय गति रुक जाए तो किस प्रकार उसे पुनर्जीवित करने की कोशिश करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसी क्रम में फरीदाबाद में हरियाणा सरकारी कर्मचारी व अफसरों को बेसिक लाइफसेविंग ट्रेनिंग देने की जिम्मेदारी मिली है। हरियाणा राज्य में पहला ऐसा जिला होगा जिसमें हरियाणा सरकार के सभी कर्मचारयिों को बेसिक लाइफसेविंग की ट्रेनिंग दी जाएगी। विशेषज्ञों ने बताया कि हादसे होने पर कैसे गोल्डन हॉवर्स (30 मिनट) के दौरान मरीज की सहायता की जा सकती है।

डा. जैन ने बताया कि ये छोटी सी बात पर अमल कर इसे कोई भी आसानी से कर सकता है। आपदा के वक्त इनकी सहायता ले तो एक नई जान दी जा सकती है।  कर्मियों को ट्रेनिंग विभिन्न चरणों में दी जा रही है। प्रथम चरण के अंतर्गत इन्हें यह बताया कि बेसिक लाइफसेविंग तकनीक को किस तरीके से रोजमर्रा की जिंदगी में प्रयोग किया जा सकता है। डा. जैन के अनुसार यह ट्रेनिंग हरियाणा सरकार के कर्मचारियों तथा छात्र-छात्राओं को दी जा रही है। डा. जैन के अनुसार छोटे-छोटे कदम जैसे खून निकलते समय घाव को दबा देना, मुंह में फंसे हुए सुपारी गुटखे को निकाल देना व शरीर को नॉर्मल कर देना, मरीज को स्पेशलिस्ट अस्पताल में भेजना जैसे कदम एक मरीज को नई जिंदगी दे सकते हैं। डा. जैन ने बताया कि इस तरह की ट्रेनिंग पहले ट्रैफिक पुलिस वालों को दी जा चुकी है। इस ट्रेनिंग के दौरान कर्मियों को आग लगने, करंट लगने, भूकंप आने, बाढ़ आने, दुर्घटना होने तथा हार्ट अटैक होने के दौरान होने दी जाने वाली प्राथमिक चिकित्सा के बारे में जानकारी दी गई। इसी क्रम में अगला कैम्प आगामी सोमवार को लघुसचिवालय में आयोजित किया जाएगा।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *