पिता का डायलिसिस कराने अस्पताल साथ गई नाबालिक लड़की के साथ हाउसकीपिंग सुपरवाइजर ने किया था दुष्कर्म

82 Views

फरीदाबाद : पुलिस कमिश्नर ओ पी सिंह के दिशा निर्देश पर कार्रवाई करते हुए महिला थाना सेक्टर 16 की प्रभारी इंस्पेक्टर गीता और अनुसंधान अधिकारी सब इंस्पेक्टर माया और उनकी टीम ने दुष्कर्म के आरोपी को वारदात के कुछ ही घंटों बाद धर दबोचा। आरोपी की पहचान हनुमान नगर भारत कॉलोनी फरीदाबाद राज किशोर पुत्र डालचंद के रूप में हुई है।

बता दें कि 14 वर्षीय नाबालिग लड़की अपने पिता का डायलिसिस कराने के लिए क्यूआरजी हॉस्पिटल सेक्टर 16 में गई थी।

डायलिसिस शुरू होने के करीब 2 घंटे बाद लड़की वॉशरूम गई थी जब वह वॉशरूम से बाहर आई तो वहां पर उपरोक्त आरोपी राजकिशोर खड़ा था और उसने लड़की को कहा कि उसको कुछ काम है और नाबालिक लड़की को अस्पताल की बेसेंट में ले गया और उसके साथ वहां पर दुष्कर्म कर फरार हो गया।

लडक़ी ने इस संबंध में पूरी जानकारी अपने परिवार वालों को दी जो कि परिवार वालों ने तुरंत सूचना महिला थाना सेक्टर 16 को दी। सूचना पर तुरंत कार्रवाई करते हुए पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर नाबालिक लड़की का मेडिकल कराया गया।

मामला पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह के संज्ञान में आने पर उन्होंने आरोपी को तुरंत गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचाने के दिशा निर्देश दिए थे। जिस पर महिला थाना सेक्टर 16 प्रभारी इंस्पेक्टर गीता ने तुरंत प्रभाव से सब इंस्पेक्टर माया सहित एक टीम का गठन किया और तुरंत प्रभाव से घटनास्थल का क्राइम ब्रांच की टीम एवं एफएसएल की टीम के साथ दौरा कर जरूरी साक्ष्य हासिल किए गए।

क्यूआरजी हॉस्पिटल में लगे हुए सभी कैमरे को पुलिस ने खंगालना शुरू किया और अस्पताल में मौजूद स्टाफ से पूछताछ कर आरोपी का पता लगाकर उसे गिरफ्तार किया गया।

पुलिस प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि पीडि़त नाबालिग लड़की की उम्र 14 वर्ष है एवं आरोपी राजकिशोर की उम्र 24 वर्ष है। आरोपी क्यूआरजी अस्पताल में हाउसकीपिंग सुपरवाइजर का काम करता है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published.