निकासी नालियां बंद होने से लोगों के खेतों में घुसा पानी

542 Views

कुठेड़ा : घुमारवीं उपमंडल के तहत कुठेड़ा बाजार में निकासी नालियों के बंद होने के कारण बारिश का पानी सड़कों पर बहने के साथ-साथ लोगों के खेतों में घूस रहा है। जिसके कारण किसानों की फसल को भी नुकसान पहुंच रहा है। निकासी नालियां कुठेड़ा चौक से लेकर वर्षाशालिका तक मिट्टी और अन्य गाद से पूरी तरह से भर चुकी हैं। जिससे कि बारिश के दौरान आने वाला मटमैला पानी नालियों से बाहर आ जाता है और स्टेट सुपर हाइवे पर फैल जाता है। इस दौरान सड़क पर चलने वाले वाहनों के पहियों से पानी पैदल चलने वाले राहगीरों पर भी पड़ जाता है। स्थानीय निवासी एवं किसान जय लाल शर्मा ने बताया कि कि नालियों के बंद होने से उनके खेतों में पानी घुस गया है। पानी के साथ-साथ रेत बजरी खाली बोतलें व अन्य सामान साथ में खेतों में पहुंच गया है। इससे फसल को नुकसान हो रहा है। दीपक महाजन, जयलाल शर्मा, अशोक कुमार, ज्योति प्रकाश, संजीव कुमार, मीरा देवी, संजय, ओंकार कतना, कुठेड़ा व्यापार मंडल के प्रधान राजेश सोनी का कहना है कि निकासी नालियों में मिट्टी भर जाने के कारण बारिश का पूरा पानी सड़क पर आ जाता है जिसके कारण लोगों तथा दुकानदारों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। उन्होंने लोक निर्माण विभाग से अपील की है कि इस प्रकार की समस्या को जल्दी समाप्त किया जाए नहीं तो इससे आने वाले समय में बीमारियों के फैलने का खतरा भी उत्पन्न हो सकता है। लोक निर्माण विभाग के कनिष्ठ अभियंता राहुल महाजन का कहना है कि समस्या उनके ध्यान में आई है शीघ्र ही निकासी नालियों को साफ कर दिया जाएगा ताकि किसी के खेतों व दुकानों में पानी न घुसे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

9 Replies to “निकासी नालियां बंद होने से लोगों के खेतों में घुसा पानी”

  1. I enjoy you because of all of the effort on this blog. Betty delights in carrying out internet research and it’s easy to see why. A lot of people hear all about the compelling form you convey both interesting and useful guidelines by means of the blog and attract contribution from other individuals about this area and my child has always been becoming educated a great deal. Enjoy the remaining portion of the new year. You’re carrying out a dazzling job.

  2. Pingback: darkfox market
  3. Pingback: track 2 shop

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *