तीस हजारी कांड : स्पेशल सीपी करेंगे निगरानी

183 Views

नई दिल्ली ! उत्तरी दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट परिसर में शनिवार दोपहर बाद लॉकअप के बाहर कार पार्क करने पर वकीलों और पुलिस के बीच भारी बवाल हो गया। गुस्साए वकीलों ने पुलिसकर्मियों को घेरकर उनके साथ बदसलूकी शुरू कर दी। वकीलों की भीड़ बढ़ती देख पुलिसकर्मियों ने हवा में गोली चलाई, जो एक वकील को लग गई। इससे गुस्साए वकीलों ने पुलिसकर्मियों को पीटने के साथ ही कोर्ट परिसर में खड़ी एक जिप्सी व 13 बाइकों सहित 17 वाहनों को आग के हवाले कर दिया।  पूरे मामले में एक एडीसीपी, दो एसएचओ सहित 20 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। उधर, वकीलों ने अपने आठ साथियों के घायल होने की बात कही है। देर शाम तक कोर्ट परिसर में तनाव का माहौल था। वकीलों ने आरोपी पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर केस दर्ज करवाने की मांग को लेकर सोमवार को निचली अदालतों में हड़ताल का एलान किया है। दोपहर बाद करीब 3 बजे उस समय विवाद शुरू हुआ जब कोर्ट लॉकअप के बाहर जहां सरकारी वाहन पार्क होते हैं वहां एक वकील अपनी कार पार्क करने लगा। कोर्ट में पेशी के लिए कैदियों को लेकर आए तीसरी बटालियन के पुलिसकर्मियों ने वकील से कार कहीं और पार्क करने के लिए कहा तो इस बात पर उनके बीच कहासुनी हो गई, जो मारपीट तक पहुंच गई।

वकीलों का आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने पीड़ित वकील व दो अन्य को लॉकअप में बंद कर पीटा। इसकी जानकारी मिलते ही लॉकअप के बाहर वकीलों की भीड़ ने हंगामा करते हुए पुलिसकर्मियों को खदेड़ना शुरू कर दिया। आरोप है कि इसी दौरान एक पुलिसकर्मी ने हवा में गोली चला दी जो वकील विजय वर्मा के सीने में लगी। इसके बाद वकीलों की भारी भीड़ ने हंगामा शुरू कर दिया। उन्होंने कोर्ट परिसर में मौजूद पुलिसकर्मियों को पीटना शुरू कर दिया और पुलिस की आठ बसों में तोड़फोड़ कर दी। इसके साथ ही एक जिप्सी व 13 बाइकों सहित 17 वाहनों को आग के हवाले कर दिया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *