जो लोग स्वाभिमानी होते है वे मोह माया व स्वार्थ से कोसो दूर रहते है : लक्ष्य

260 Views

सीतापुर | लक्ष्य की सीतापुर टीम ने लक्ष्य कमांडर मुन्नी बौद्ध के नेतृत्व में  ” लक्ष्य मोहल्ले मोहल्ले ” अभियान के तहत एक  भीम चर्चा का आयोजन सीतापुर के लोनियन पुरवा  मोहल्ले में स्थित बौद्ध विहार में किया | स्वाभिमानी लोग ही संघर्ष को अंजाम तक पहुंचा सकते है | स्वाभिमान के सामने मोह माया व स्वार्थ नहीं टिकता है अर्थात जो लोग स्वाभिमानी होते है वे मोह माया व स्वार्थ से कोसो दूर रहते है और वे संघर्ष को मंजिल तक पहुंचाकर ही दम लेते हैं, वे हर तरह से दमदार, ईमानदार  व निर्भीक  होते हैं वे समाज के प्रति समर्पित होते है वे स्वार्थ और लक्ष्य के बीच में एक लम्बी लकीर खींचते है ऐसे लोग अपने लक्ष्य से भटकते नहीं है वो समाज को अपने स्वार्थ के कारण बीच राह में नहीं छोड़ते है वे अपने स्वाभिमान के बल पर संघर्ष को मजबूती प्रदान करते है और लक्ष्य को हांसिल करते हैं और ऐसे लोग समाज के प्रेरणा स्रोत्र होते है,  लोग उनको अपने जीवन में उच्च स्थान देते है और उनके द्वारा बताये मार्ग का अनुसरण करते है।

ऐसे ही थे हमारे महापुरुष तथागत गौतम बुद्ध, संत कबीर, संत रविदास, महात्मा ज्योति राव फुले, माता सावत्री बाई फुले, छत्रपति साहू जी महाराज, पेरियार ई वी रामास्वामी नायकर, बाबा साहब डॉ भीमराव अम्बेडकर व मान्यवर कांशी राम जिन्होंने मनुष्य को मानवता का मार्ग दिखाया | यह बात लक्ष्य की महिला कमांडरों ने भीम चर्चा के दौरान कही | लक्ष्य कमांडरों ने बहुजन समाज के लोगो से आह्वान करते हुए कहा कि आओ मिलकर समाज को स्वाभिमानी बनाये और स्वार्थी नेताओ का बहिष्कार करे जो अपने स्वार्थ के चलते समाज को गुलामी में धकेलते है | इस भीम चर्चा में लक्ष्य कमांडर मुन्नी बौद्ध, निर्मला बौद्ध, मंजू जाटव, रिंकी, मीना, सुशीला, रीना, पूनम देवी, रेखा गौतम, रीता वर्मा, संध्या, राधिका, अमृता, गुड्डी यादव, फूलमती, मंजू, सरोजनी गौतम, कान्ति, माया, जय देवी व शिवचरन लाल आदिम ने हिस्सा लिया | 

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

5 Replies to “जो लोग स्वाभिमानी होते है वे मोह माया व स्वार्थ से कोसो दूर रहते है : लक्ष्य”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *