जीवा में आयुर्वेद पढऩे आया जापानी दल

192 Views

फरीदाबाद 1 अक्टूबर। जीवा आयुर्वेद संस्थान के सैक्टर 89 स्थित जीवाग्राम में जापानी छात्रों का एक दल सात दिन के लिए भारत आया है। ये सभी जापानी छात्र ‘आयुर्वेद एंडस्ट्रेस कोर्स’ करने के लिए जीवा आयुर्वेद संस्थान में आए हैं। इस दल का नेतृत्व चीए मोम्बू कर रही हैं। आयुर्वेद में केव रोग का इलाज नहीं किया जाता बल्कि उसके कारण को जानकर रोग को जड़ से समाप्त किया जाता है। इसी कारण जापान में भारतीय संस्कृति एवं भारतीय आयुर्वेदिक परंपरा को विशेष रूप से सम्मान दिया जाता है और जापान में आयुर्वेद को भी बहुत महत्व दिया जाता है। वहां भारतीय परम्परा के अनुसार आयुर्वेद को घर के आवश्यक तथ्यों के रूप में शामिल किया जाता है एवं प्रयोग भी किया जाता है। प्रतिवर्ष जापान से अनेक छात्र भारत आते हैं एवं भारतीय संस्कृति के साथ-साथ आयुर्वेद की भी विस्तृत जानकारी प्राप्त करते हैं।

वे अपने कार्यक्रम के दौरान सांस्कृतिक एवं आध्यात्मिक ज्ञान प्राप्त करने के लिए मंदिरों के दर्शन भी करेंगे। उनको व्यायाम के महत्व तथा दिनचर्या के नियमों से अवगत कराना भी इस कार्यक्रम में शामिलहै। सभीछात्रों को आयुर्वेदिक तरीके से भोजन बनाना एवं ग्रहण करना भी सिखाया जाएगा। इन जापानी छात्रों को कोर्स के अनुसार उन्हें तनाव मुक्त जीवनयापन करने की विधि से अवगत किया जाएगा। इस श्रृंखला में उन्हें बेसिक ऑफ आयुर्वेद, आयुर्वेद एंड द त्रिगुण, ईट अवे द स्ट्रेस, स्ट्रेस एंड इमोशन, स्प्रिचुएलिटी फॉर स्टे्रस का कोर्स करवाया जाएगा। इसके अलावा आयुर्वेद के अनुसार थ्योरी ज्ञान भी दिया जाएगा जैसे आयुर्वेद के आधार पर बुद्घि व शारीरिक रचना का ज्ञान, आयुर्वेद के अनुसार तनाव मुक्ति के लिए भोजन किस प्रकार सेवन करें और पाचन शक्ति को कैसे दुरूस्त किया जाए, साधारण तरीकों से तनाव मुक्ति के उपाय एवं भावनात्मक रूप से तनाव मुक्ति के उपाय। इसके साथ ही कुछ रचनात्मक गतिविधियां जैसे आर्ट एंड क्राफ्ट, पाक कला व संगीत एवं नृत्य कला के माध्यम से भी तनाव मुक्ति किस प्रकार की जाए इसका भी वर्णन किया जाएगा।

उन्हें डॉ. केशव चौहान आयुर्वेद के विभिन्न तथ्यों की जानकारी देंगे। डॉ. अरूण त्यागी योग का अभ्यास करवायेंगे। पंचकर्मा के लिए डॉ. राहुल त्यागी सभी अतिथि छात्रों को जानकारी देंगे तथा संयोजक के रूप में राजेश एवं निधि इन विदेशी छात्रों का पूरा ध्यान रखेंगे व काजल चौहान इस पूरे कार्यक्रम की हेड रहेंगी। इस अवसर पर जीवाग्राम में अन्तर्राष्टï्रीय प्रोजेक्ट हेड काजल चौहान, डाक्टर केशव चौहान, डॉक्टर राहुल त्यागी, योगाचार्य अरूण त्यागी, संयोजक निधि और राजेश उपस्थितथे। इनके अलावा जीवा ग्राम के अन्य सदस्यों ने सभी अतिथियों का परंपरागत एवं भव्य स्वागत किया।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *