जीवा पब्लिक स्कूल में 12वीं के छात्रों के लिए कैरियर काऊंसलिंग का आयोजन

638 Views

फरीदाबाद 22 अक्टूबर। फरीदाबाद 21बी स्थित जीवा पब्लिक स्कूल में छात्रों के लिए एक कैरियर काऊंसलिंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के संचालक राजूल प्रताप सिंह हैं और वे कैरियर पंडित नाम से एक संस्था भी चलाते हैं। उनके साथ भारती सेठी ने भी भाग लिया जिन्होंने पाठ्ïयक्रम के सभी विषय में बच्चों को बेहतर कैरियर विकल्प के विषय में बताया हैं। इस संस्था के अंतर्गत देशभर में करीब 2700 स्कूल व कॉलेज कार्य कर रहे हैं। आज के समय में प्रत्येक युवा की पहली चिंता यही है कि वह कौन से शिक्षा के क्षेत्र का चुनाव करें कि भविष्य में उसे आसानी से रोज़गार के साथ-साथ एक अच्छी आय भी प्राप्त हो सके।
श्री राजुल ने 12वीं के छात्रों के समक्ष इसी विषय पर विस्तार से वर्णन किया और बताया कि विज्ञान, वाणिज्य व ह्ïयूमैनिटी अर्थात कला संकाय तीनों ही क्षेत्र में अपार सफलताएं व कैरियर विकल्प मौजूद हैं। आवश्यकता केवल इस बात की है कि हम उस विषय का चुनाव करें जिस पर हमारी अच्छी पकड़ हो। आज के समय में वास्तव में ही रोज़गार के स्त्रोत काफी हद तक परिवर्तित हो चुके हैं। अनेक प्रकार के स्त्रोत आज हमारे समक्ष उपलब्ध हैं। हम स्त्रोत को भली-भांति समझें व उसकी तैयारी करें, आज तकनीकि दुनिया ने भी अभूतपूर्व उन्नति की है। एक स्मार्टफोन अनेक प्रकार के कार्य लेता है व अनेक प्रकार से हमारे लिए मददगार सिद्घ होते हैं। हमें उन बातों से परिचित होना चाहिए व इनसे सहायता लेनी चाहिए।

राजुल प्रताप से प्रत्येक संकाय अर्थात विज्ञान, वाणिज्य एवं कला के विषय में बारीकी से जानकारी दी एवं अनेक प्रकार के रोज़गार के विषय में भी बताया साथ ही यह भी बताया कि कई ऐसे रोजग़ार के क्षेत्र भी हैं जिनका आज इतना अधिक प्रचलन नहीं है परन्तु आने वाले समय में वह रोज़गार के विकल्प के रूप में उभर कर आऐंगे। भविष्य में कई ऐसे रोज़गार अस्तित्व में आ जाऐंगे जो तत्कालीन वातावरण के अनुरूप ही कार्य करेंगे। श्री राजुल ने बच्चों को 12वीं के बाद की कैरियर विकल्पों के बारे में बताते हुए कहा कि आज बच्चों के पास एक नहीं बहुत से अवसर उपलब्ध हैं। अपने कैरियर के चुनाव करने के लिए उन्होंने स्ट्रीम के हिसाब से बच्चों को उनके कैरियर विकल्पों से अवगत कराए और उनके महत्व समझाए साथ ही बताया कि आत्मविश्वास व सूझबूझ के साथ कार्य करें, तकनीकी ज्ञान का भरपूर लाभ उठाए, शिक्षा के क्षेत्र में पाठï्ïयक्रम का विषय कोई भी हो उसकी पूर्ण जानकारी का होना बेहद आवश्यक है। इसके साथ ही उन्होंने बच्चों को नए-नए तथ्यों की जानकारी लेते रहने के लिए कहा जिससे वे हर समय स्वयं को सुदृढ़ महसूस करें।

बच्चों ने इस कार्यशाला के दौरान श्री राजुल से अनेक प्रश्न पूछे जिनका उत्तर उन्होंने बड़े ही संतोषजनक रूप से दिया। 12वीं की एक छात्रा ने मॉडलिंग के क्षेत्र में अपना प्रश्न किया जिसका उत्तर भी श्री राजुल ने बहुत उत्कृष्टï ढंग से दिया। इस अवसर पर विद्यालय की काऊंसिलर सुजैन उपस्थित रहीं व प्रधानाचार्या देविना निगम भी उपस्थित रहीं।

Spread the love