जरूरतमंद लोगों को ठहरने व खाने-पीने की सुविधा देने के उद्देश्य से जिला प्रशासन ने 20 अस्थाई आश्रय स्थल बनाए

147 Views

फरीदाबाद। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि कोरोना के संभावित संक्रमण को रोकने के लिए सरकार की ओर से घोषित लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंद लोगों को ठहरने व खाने-पीने की सुविधा देने के उद्देश्य से जिला प्रशासन ने जिला में 20 अस्थाई आश्रय स्थल बनाए हैं। इन आश्रय स्थलों में बिजली, पानी, शौचालय सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध है। अलग-अलग स्थानों पर बनाए गए इन आश्रय स्थलों में करीब 1 हजार 880 लोगों के रुकने की सुविधा उपलब्ध है। बाद में लोगों की जरूरत के हिसाब से इन आश्रय स्थलों की संख्या बढ़ाई भी जा सकती है।

उन्होंने बताया कि सभी आश्रय स्थलों के लिए इंचार्ज नियुक्त किए गए हैं। सभी इंचार्ज को इन आश्रय स्थलों पर सोशल डिस्टेंस मेंटेन करने को कहा गया है।उपायुक्त ने कहा कि जो प्रवासी श्रमिक फरीदाबाद जिला से गुजर रहे हैं वे इन आश्रय स्थलों में रह सकते हैं। लॉक डाउन के दौरान सरकार ने किसी भी प्रकार की मूवमेंट पर पाबंदी लगा रखी है। अतः सभी व्यक्ति सरकार की हिदायतों की अनुपालना करें तथा किसी भी प्रकार की मूवमेंट न करें। बहुत जरूरी हो तभी घर से बाहर आएं अन्यथा अपने घर पर ही रहे। 

उपायुक्त ने जिलावासियों से अपील करते हुए कहा कि लॉकडाऊन के दौरान सरकार की हिदायतों का पालन करें तथा जिला में इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए सभी जिलावासी प्रशासन का सहयोग करें। लॉकडाउन के दौरान जिला में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए प्रशासन ने पर्याप्त इंतजाम किए है। जिला में किसी भी आवश्यक वस्तु की कमी नहीं है। प्रशासन की ओर से सभी आवश्यक वस्तुओं के स्टॉक की निगरानी की जा रही है। वहीं कालाबाजारी व जमाखोरी को रोकने के लिए भी प्रशासन की टीमें लगातार कार्य कर रही है।

उन्होंने बताया कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय खवाजा में बनाए गए आश्रय स्थल में 200 लोगों के ठहरने की व्यवस्था है। इसी प्रकार तिलपत विद्यालय में 100, सेहतपुर विद्यालय में 100, पाली स्थित विद्यालय में 100,  राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सेक्टर 21डी में 100, राजकीय मिडल स्कूल बदरपुर सैद में 70, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय खेड़ी कला में 100, राजकीय मिडिल स्कूल सेक्टर 31 में 70, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय मेवला महाराजपुर में 100 राजकीय विश्व माध्यमिक विद्यालय ओल्ड फरीदाबाद में सो राजकीय मिडिल स्कूल मरी जा मुझे सर में 70 राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय भोज में सो राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय एनआईटी-2 मेट्रो में 100, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सीकरी में 100, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय झाड़सेंतली में 70 व राजकीय प्राइमरी स्कूल झाड़सेंतली में 30, राजकीय मिडिल स्कूल बापू नगर में 70, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय फरीदपुर में 100 तथा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय भाकरी में 100 लोगों के ठहरने की व्यवस्था की गई है। इन सभी अस्थाई आश्रय स्थलों के लिए जिला शिक्षा अधिकारी सतविंदर कोर को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

One Reply to “जरूरतमंद लोगों को ठहरने व खाने-पीने की सुविधा देने के उद्देश्य से जिला प्रशासन ने 20 अस्थाई आश्रय स्थल बनाए”

  1. Pingback: G's Landscaping

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *