‘‘जनता की आवाज’’ न्यूज पोर्टल का कूड़े कर्कट के खिलाफ अभियान तेजी की ओर

490 Views

गुरुग्राम (मदन लाहौरिया) 3 नवंबर। गुरुग्राम में जगह-जगह पर जबरदस्त फैले हुए कूड़े कर्कट की ख़बरें करीब पिछले एक महीने से निरंतर हमारे न्यूज पोर्टल जनता की आवाज न्यूज डॉट कॉम पर प्रकाशित की जा रही है! इन खबरों को पढक़र गुरुग्राम की जनता में कूड़े कर्कट को हटवाने के प्रति एक जबरदस्त भावना जागृत हो चुकी है! हमारे न्यूज पोर्टल ने गुरुग्राम के कई सेक्टरों व शहरी इलाके की सफाई व्यवस्था की दुर्दशा की पूरी तरह से पोल खोल कर रख दी है! इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए आज हमने दोबारा से जैन बारादरी गुरुग्राम के पास लगे हुए कूड़े कर्कट के ढ़ेरों की फोटो खींची और सफाई व्यवस्था की इस दुर्दशा के बारे में नगर निगम गुरुग्राम के ज्वाइंट कमिश्नर वाई.एस.गुप्ता से बात की तो उन्होंने आश्वासन दिया कि जल्द से जल्द नगर निगम के अधिकारी इस कूड़े कर्कट के ढ़ेरों को हटवाने काम करेंगे! इसके तुरंत बाद नगर निगम के अधिकारी मलिक साहब का फोन आया और उन्होंने कूड़े कर्कट की समस्या का समाधान एक दो दिन में करने का हमें कहा!

यह सारा इलाका वार्ड 18 के तहत आता है! जब वार्ड 18 के पार्षद सुभाष सिंगला से इस कूड़े कर्कट की समस्या के बारे में बात की गई तो सुभाष सिंगला ने सीधे-सीधे ईको ग्रीन कंपनी पर आरोप लगाते हुए कहा कि नगर निगम के सभी पार्षदों ने ईको ग्रीन कंपनी के कूड़ा प्रबंधन की अनेकों कमियों के कारण आने वाली शिकायतों को देखते हुए ईको ग्रीन कंपनी का कूड़ा प्रबंधन का लाइसेंस रद्द करने की हरियाणा सरकार से कई बार गुजारिश की है! इसी वार्ड 18 के पार्षद सुभाष सिंगला ने यह तो खुलेआम माना कि केवल वार्ड 18 में ही नहीं बल्कि पुरे गुरुग्राम में सफाई व्यवस्था की बुरी हालात है!

जैकबपुरा के चूड़ी वाली गली के निवासी मुकेश सिंगला से जब बात की गई तो उन्होंने कहा कि गुरुग्राम शहर में ईको ग्रीन कंपनी की कोई भी गाड़ी कूड़ा उठाने के लिए नजर नहीं आती! उन्होंने ईको ग्रीन कंपनी पर तीखे आरोप लगाते हुए कहा कि ईको ग्रीन कंपनी केवल कागजों में ही गुरुग्राम शहर की सफाई व्यवस्था की रिपोर्ट सही दिखाती है जब कि असलियत में ईको ग्रीन कंपनी सफाई व्यवस्था के नाम पर जबरदस्त लूटपाट कर रही है व हरियाणा सरकार से सफाई के नाम पर जबरदस्त पैसा ऐंठ रही है! एनजीटी कोर्ट ने भी ईको ग्रीन कंपनी के कूड़ा प्रबंधन व्यवस्था के फेल होने पर कई बार लताड़ मारी है! मुकेश सिंगला ने आगे बताया कि सफाई कर्मचारी सफाई करने के लिए रोजाना नहीं आते और आते भी हैं तो सुबह दस बजे के बाद आते है! इतनी देरी से आने की वजह से कूड़े कर्कट के ढ़ेर दुकानों के आगे लगे रहते हैं! दिवाली के त्यौहार पर सफाई कर्मचारियों ने चार दिन तक कूड़ा कर्कट नहीं उठाया व दिवाली के नाम की जबरदस्ती करते हुए रिश्वत की मांग की और कहा कि यदि दिवाली के नाम की रंगदारी नहीं दी गई तो कूड़ा नहीं उठाया जायेगा! मुकेश सिंगला का कहना है कि व्यापारियों के साथ इन सफाई कर्मचारियों का व्यवहार दादागिरी जैसा है!

जैन बारादरी के पास पक्षियों के अस्पताल के डॉक्टर राजकुमार का कहना है कि इस बाजार में जगह जगह पर हमेशा ही कूड़े कर्कट के ढ़ेर लगे रहते है और कई बार शिकायत करने के बावजूद भी नगर निगम के सफाई कर्मचारी कूड़ा नहीं उठाते व ईको ग्रीन कंपनी की सफाई व्यवस्था तो पूरी तरह फेल है!

इसी कड़ी में यहीं पर पास में एक खोमचे की रेहड़ी लगाने वाले योगेश कुमार से जब बात हुई तो उन्होंने यहां पर पास में ही बने हुए सुलभ शौचालय की पोल खोलते हुए बताया कि इस शौचालय में सफाई कर्मचारी दिनदहाड़े बैठकर शराब पीते हैं व जुआ खेलते हैं और सफाई व्यवस्था की बुरी हालात है! इस सारे विषय पर बात करने के लिए जब वर्तमान में चुन कर आये विधायक सुधीर सिंगला व मेयर मधु आजाद से फोन मिलाया गया तो फोन उठाया नहीं गया!

इसी प्रकार गुरुग्राम से वर्तमान में विधानसभा का चुनाव लडऩे वाले वार्ड 19 के पार्षद अश्वनी शर्मा को फोन मिलाया गया तो उन्होंने भी फोन नहीं उठाया व नगर निगम के पूर्व अधिकारी वर्तमान में चुनाव लड़े राव भोपाल सिंह ने भी फोन नहीं उठाया! जैकबपुरा के पंचवटी के पास कई महीनों से मलबा व पेड़ों की कटाई का कूड़ा कर्कट पड़ा है व नगर निगम के सफाई कर्मचारी इसे नहीं उठा रहे! इस बारे में इस मौहल्ले में रहने वाले विनोद कुमार व नानक चंद शर्मा से बात हुई तो उन्होंने बताया कि इस पार्क के पास बड़ी भारी गंदगी पड़ी रहती है व मलबा कई महीनों से पड़ा है! गुरुग्राम शहर में चारों तरफ फैले हुए इस कूड़े कर्कट के समाधान के लिए आने वाले समय में धरने-प्रदर्शन की भी योजना बनाई जा सकती है!

Spread the love