चिकित्सा पद्धतियों में इलैक्ट्रोपैथी प्रकृति से जुड़ी पद्धति : पंडित अमर चंद भारद्वाज

426 Views

गुरुग्राम : इलैक्ट्रोपैथी प्रैक्टिशनरस एसोसिएशन हरियाणा और आप जन सेवा संगठन ने आयुष्मान मेडिकल इंस्टिट्यूट ऑफ़ इलैक्ट्रोपैथी एंड हॉस्पिटल, अमर कॉलोनी, गुरुग्राम के प्रांगण में डॉक्टर काउंट सीजर मैटी की 213वी जयंती धूमधाम से मनाई गई। कार्यक्रम का शुभारंभ पूर्व सदस्य श्री माता शीतला देवी श्राइन बोर्ड गुरुग्राम व आचार्य पुरोहित संघ के अध्यक्ष पंडित अमर चंद भारद्वाज ने रिबन काटकर और मैटी की प्रतिमा के आगे दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया।

कार्यक्रम में बतौर अति विशिष्ट अतिथि भाई रोहित मदान राष्ट्रीय अध्यक्ष दा पावर ऑफ ह्यूमन राइट्स ने कहा कि इलैक्ट्रोपैथी ऐसी पद्धति है जो शत-प्रतिशत प्राकृतिक पेड़ पौधों से निर्मित दवाओं पर आधारित है। उन्होंने कहा कि इलैक्ट्रोपैथी दवाई शरीर को बिना नुकसान किए रोगों को जड़ से समाप्त करती है और नए व पुराने रोगों पर तुरंत प्रभावशाली है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे डॉ संजय आर्य ने भी इलैक्ट्रोपैथी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इलैक्ट्रोपैथी दवाओं से ऐसे रोगों को भी ठीक किया जा सकता है जिनका उपचार ऑपरेशन द्वारा होना होता है। आयुष्मान मेडिकल इंस्टिट्यूट ऑफ़ इलैक्ट्रोपैथी एंड हॉस्पिटल के चेयरमैन डॉ ललित गोला ने कार्यक्रम के दौरान उपस्थित तमाम अतिथियों और चिकित्सकों को धन्यवाद देते हुए कहा कि इस इलैक्ट्रोपैथी कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य आम जनता तक इलैक्ट्रोपैथी के बारे में जागरूकता लाना है।

इस मौके पर इलैक्ट्रोपैथी प्रैक्टिशनरस एसोसिएशन के सह सचिव डॉ असलम, सह कोषाध्यक्ष डॉ राखी अवस्थी, डॉ अनु, कार्यक्रम आयोजक डॉ मंजू गोला, डॉ साक्षी, डॉ शक्ति, डॉ इंद्रजीत, डॉ पारस आर्य, डॉ नितिन कुमार, डॉ प्रवीण डागर, डॉ पुष्पा, डॉ दर्पण, डॉ अस्मिता, डॉ कमलेश, आदि गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Spread the love