क्राइम ब्रांच 65 ने विवेकानंद पार्क में हुए ब्लाइंड मर्डर एक और आरोपी को किया गिरफ्तार

38 Views
  • पैसो के लालच के चलते नशेड़ी आरोपी ने अपने साथी के साथ मिलकर पत्थर से सिर में चोट मारकर की थी बुजुर्ग की हत्या

फरीदाबाद : क्राइम ब्रांच 65 प्रभारी ब्रह्म प्रकाश की टीम ने 19-20 मई की रात सेक्टर 21B रेलवे लाइन के पास स्थित स्वामी विवेकानंद पार्क में पत्थर से सिर में चोट मारकर बुजुर्ग की हत्या के मामले में दूसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम सुनील उर्फ बीड़ी उर्फ चूचू जो फरीदाबाद के फतेहपुर चंदीला गांव का रहने वाला है। इस मामले में आरोपी का एक साथी सोनू उर्फ अविनाश उर्फ बहरा को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। दोनों आरोपी अंखिर में एक सर्विस स्टेशन पर काम करते थे और दोनो नशेड़ी किस्म के व्यक्ति हैं जो शराब के साथ साथ इंजेक्शन का नशा भी करते हैं। क्राइम ब्रांच की टीम ने गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए आरोपी को सिपाही नेपाल के 2 दिन के कठिन परिश्रम से रेकी कर आरोपी सुनील उर्फ बीड़ी उर्फ चूचू को हरिद्वार से गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस थाना एनआईटी में दिनांक 20 मई को हत्या की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था जिसमें आरोपी सोनू ने अपने साथी सुनील के साथ मिलकर बीके अस्पताल में चाय की दुकान लगाने वाले 52 वर्षीय हरगोविंद की पत्थर से सिर में चोट मारकर हत्या कर दी थी। मृतक हरगोविंद के भाई की शिकायत पर पुलिस थाना एनआईटी में मुकदमा दर्ज किया गया था। प्राथमिक पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह हरगोविंद को पिछले करीब 6 महीने से जानते थे। हरगोविंद पिछले कई सालों से बीके अस्पताल की बिल्डिंग में चाय की दुकान लगाता था। हरगोविंद भी शराब पीने का आदी था इसलिए दोनों आरोपी उसके पास आते जाते थे और उसकी दुकान पर बैठकर उसके साथ शराब पीते थे। एक दिन शराब पीकर बातों बातों में आरोपियों ने हरगोविंद से उसकी कमाई के बारे में पूछा तो हरगोविंद ने बताया कि अपनी मेहनत से उसने करीब 2 लाख रुपए इकट्ठे कर लिए हैं और इन्हें लेजाकर वह गांव में अपना मकान बनाएगा। 2 लाख रुपए की बात सुनकर आरोपियों को लालच आ गया और उन्होंने हरगोविंद से पैसे हड़पने की योजना बनाई।

इस योजना के तहत दिनांक 19-20 मई की रात आरोपी बुजुर्ग हरगोविंद को पार्टी देने के बहाने अपने गांव फतेहपुर चंदीला बुलाया और वहां पर शराब पिलाकर उससे पैसों के ठिकाने के बारे में पूछताछ की परंतु जब हरगोविंद ने पैसों के बारे में बताने के लिए मना कर दिया तो उन्होंने उसके साथ मारपीट की और बाद में उसे पुलिस लाइन के पास स्थित विवेकानंद पार्क में लेकर आए और उसके सिर में पत्थर से चोट मारकर उसकी हत्या कर दी। आरोपी से पूछताछ जारी है पूछताछ के बाद अदालत में पेश कर जेल भेजा जाएगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.