क्या यही है साइबर सिटी !

490 Views

गुरुग्राम (मदन लाहौरिया) 13 नवंबर। तस्वीरें खुदबखुद बोलती हैं! कटु सत्य तस्वीरों से उजागर हो जाता है! यह बात गुरुग्राम की सफाई व्यवस्था की दुर्दशा के मामले में पूणतया लागू हो रही है! भाजपा सरकार के मुख्यमंत्री चाहे कुछ भी कहें पर सत्य तो तस्वीरें बता ही देती हैं! सत्य के आगे झूठे नारे व झूठे वायदे फेल हो जाते हैं! सत्य को जनता चाहे देरी से समझे परंतु जब जनता को सत्य समझ में आ जाता है तो जनता बड़ी से बड़ी सत्ता को उखाड़ कर फ़ेंक देती है! गुरुग्राम के विकास की झूठी घोषणाओं की पोल अब जनता के सामने खुलती जा रही है! गुरुग्राम के विकास को ये दो तस्वीरें भली भांति रूप से दर्शा रही है! ये तस्वीरें देख कर ताजुब होगा कि साइबर सिटी कहलाने वाले गुरुग्राम की क्या इतनी बुरी हालात होगी कि शहर के सब से व्यस्तम सदर बाजार में श्याम स्वीट्स के सामने वाली गली में बने हुए सार्वजनिक शौचालय में गंदगी की इतनी भरमार हो कि वहां पर टायलट जाने वालों को बदबू के कारण या तो उल्टी लग जाये या गंभीर बीमारी हो जाये! सोहना चौक के पास मस्जिद से आगे श्याम स्वीट्स के पास यह शौचालय है व इस के किनारे पर एक बड़ा ट्रांसफार्मर लगा हुआ है और यह सदर बाजार के आखिरी में है! इस शौचालय का जब दौरा किया गया तो पाया कि शौचालय के अंदर जगह जगह पर फर्श की टाइलें उखड़ी हुई है व अंदर इतना कीचड़ और गंदगी थी कि वहां पर कोई भी व्यक्ति नाक बंद कर तो पेशाब कर सकता है वैसे नहीं! इस तस्वीर में स्पष्ट है कि शौचालय में किस प्रकार की गंदगी है! शौचालय के गेट के साथ व सडक़ पर बहुत बुरी गंदगी रहती है! बड़ी हैरानी की बात है कि कई वर्षों से सदर बाजार में गंदगी का आलम रहता है व यहाँ पर शौचालय गंदगी से भरे रहते है परंतु यहां पर व्यापार करने वाले दुकानदार इतनी गंदगी में गुजारा कैसे करते हैं! या तो प्रशासन इन दुकानदारों की बात सुनता नहीं है या दुकानदारों का खून इतना सफेद हो गया है कि वे बुनियादी सुविधाओं की कमी के कारण सरकार के खिलाफ बुलंद आवाज उठाने से डरते हों!

दूसरी तरफ गुरुग्राम के विकास की एक तस्वीर यह है कि गाय माता को कूड़े कर्कट को खाना पड़ रहा हो और गाय माता कूड़े कर्कट के ढेरों पर अपना मुहं चला कर कूड़े कर्कट को पेट में डाल कर कूड़े को गोबर के माध्यम से रिसाइकल कर रही हो! गाय के गोबर को पवित्र माना जाता है! यह बात सोचने की है कि गाय कूड़ा कर्कट खाकर कैसा तो शुद्ध दूध देगी और कैसा पवित्र गोबर! शर्म आनी चाहिये भाजपा सरकार को कि साइबर सिटी गुरुग्राम को विकास की नगरी की जगह गंदगी की नगरी बना कर रख दिया गया है!

सदर बाजार में धार्मिक सामान का काम करने वाले पंडित होश्यारी लाल से जब बात की गई तो उन्होंने तीखी प्रतिक्रिया करते हुए कहा कि गुरुग्राम का सदर बाजार तो पिछले पांच सालों में गंदगी की नगरी बन चुका है! यहां पर दुकानदारों का जीवन नरकमय हो गया है! बाजार में हमेशा गंदगी फैली रहती है! प्रशासन बिलकुल ध्यान नहीं देता! गंदगी की वजह से सदर बाजार में काम धंधा कम हो गया है! गुरुग्राम के विकास बनाम विनाश की ये दोनों तस्वीरें बखूबी हाल पेश कर रही हैं! देखते रहियें इसी प्रकार ‘‘जनता की आवाज’’ न्यूज पोर्टल और जानते रहिये गुरुग्राम की गंदगी का हाल!

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.