किसानों व गरीबों के जनादेश के साथ धोखा किया दुष्यंत चौटाला ने !

487 Views

गुरुग्राम (मदन लाहौरिया) 26 अक्टूबर। हरियाणा की राजनीति में बड़े भारी उलटफेर के चलते आखिऱकार भाजपा और जजपा ने सत्ता सुख भोगने के लिए हाथ मिला ही लिया! जजपा पार्टी वर्तमान चुनाव में जनता से वोट तो लेकर आई भाजपा की किसान विरोधी व गरीब विरोधी नीतियों के खिलाफ चुनाव लडऩे के कारण परंतु जजपा पार्टी ने सत्ता सुख भोगने के चक्रव्यूह में फंस कर भाजपा के साथ सांझेदारी में सरकार चलाने के लिए अपनी पार्टी के सिद्वातों व नीतियों के साथ समझौता करते हुए हरियाणा के समूचे किसान वर्ग के साथ व गरीब तबके के साथ बड़ा भारी धोखा किया है!

एक प्रैस कांफ्रेंस के दौरान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने ऐलान करते हुए कहा कि हरियाणा में भाजपा और दुष्यंत चौटाला की जजपा पार्टी मिलकर नई सरकार बनायेगी! अमित शाह ने इस प्रैस कांफ्रेंस में जजपा पार्टी के प्रमुख दुष्यंत चौटाला की मौजूदगी में ये बातें कही! वहीं दुष्यंत चौटाला ने कहा कि हरियाणा में सरकार चलाने के लिए भाजपा को समर्थन देने का फैसला किया है! इस दौरान अमित शाह ने बताया कि भाजपा को मुख्यमंत्री पद व जजपा को उप मुख्यमंत्री पद होगा! कई सारे निर्दलीय विधायकों ने भी गोपाल कांडा सहित इस गठबंधन सरकार को समर्थन दिया है! इस प्रैस कांफ्रेंस में दुष्यंत चौटाला के साथ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, कार्यकारी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा व हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर तथा हरियाणा भाजपा के प्रभारी अनिल जैन मौजूद थे!

भाजपा व जजपा के इस राजनैतिक गठबंधन पर जब किसान नेता चंद्रभान काजला से बातचीत की गई तो उन्होंने तीव्र प्रतिक्रिया करते हुए कहा कि चौटाला परिवार का इतिहास है कि अपने निजी राजनैतिक स्वार्थों के लिए हरियाणा प्रदेश के भोले-भाले किसानों के हितों के साथ धोखाधड़ी करने का! उन्होंने कहा कि इस वर्तमान चुनाव में अपने चुनावी प्रचार के दौरान जजपा पार्टी के प्रमुख दुष्यंत चौटाला की माँ नैना चौटाला ने अपने बाढड़ा हल्के के चुनावी अभियान के दौरान कहा था कि हम भाजपा से कभी गठबंधन नहीं करेंगे और यह भी कहा था कि दुष्यंत के बढ़ते हुए राजनैतिक अभियान के कारण हरियाणा में अमित शाह की रैलियां रद्द की जा रही हैं! इस बात से हरियाणा की जनता अच्छी तरह समझ सकती है कि चौटाला परिवार अपने किये हुए पापों की सजा भुगतने से बचने के लिए ही भाजपा के चरणों में जा पहुंचा और अपने निजी राजनैतिक स्वार्थ के लिए दुष्यंत चौटाला ने अपनी पार्टी जजपा के निष्ठावान कार्यकर्ताओं की ईमानदारी, मेहनत व लगन पर पानी फेरते हुए उनसे बड़ा भारी धोखा किया व हरियाणा के गरीबों व किसानों के जनादेश के साथ बड़ा भारी धोखा किया!

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.