एसएसबी और जनता के बीच समन्वय जरूरी : उप कमांडेंट

1,016 Views

सिकटी, (अररिया): एसएसबी 52वीं वाहिनी के उप कमांडेंट अजय बहादुर सिंह ने गुरुवार को भारत -नेपाल सीमा पर स्थित लैलौखर कंपनी की बाहरी सीमा चौकी मधुबनी में ग्रामीणों तथा जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक की जिसमें लोगों की समस्याओं की जानकारी तथा सीमावर्ती क्षेत्र के ग्रामीणों के साथ समन्वय स्थापित करने पर चर्चा हुई । एसएसबी उप कमांडेंट ने कहा कि सीमा सुरक्षा तथा बंधुत्व का भाव लिए सीमा पर एसएसबी के जवान तैनात हैं और उसी कि बानगी है कि एसएसबी सीमा की सुरक्षा के साथ -साथ सीमावर्ती क्षेत्र के ग्रामीणों के विकास के लिए समय -समय पर मेडिकल कैंप, शुद्ध पेयजल के लिए चापाकल, ज्ञानवर्धक पुस्तकें नि:शुल्क उपलब्ध कराईं जाती हैं । साथ ही स्थानीय युवाओं के लिए रोजगार के अवसर मुहैया कराने हेतु कौशल विकास के तहत कंप्यूटर प्रशिक्षण, सिलाई प्रशिक्षण, बिजली प्रशिक्षण आदि कार्यक्रम भी निशुल्क चल रहा है । एसबीबी भी ग्रामीणों से य़ह अपेक्षा रखती है कि सीमा एवं सीमा पार से हो रही राष्ट्रविरोधी गतिविधियों की किसी भी प्रकार की जानकारी हो, इसकी सुचना तुरंत एसएसबी को दें । वहीं ग्रामीणों ने अपनी समस्याओं को रखते हुए कहा कि गांव के विद्यालय में यदि कंप्यूटर की व्यवस्था हो तो बच्चे तेजी से शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ सकेंगे । सोलर लाइट , शुध्द पेयजल जैसी कई समस्याओं से उप कमांडेंट को अवगत कराया । वहीं उप कमांडेंट ने उनकी बातों को ध्यान से सुना और निजात दिलाने की बात कही। बैठक में लैलौखर कंपनी कमांडर राजेश कुमार , एएसआइ संजीव कुमार, मुख्य आरक्षी राजू कुमार सिंह, वार्ड सदस्य दीप ना सिंह, पैक्स अध्यक्ष कृष्ण कांत सिंह, संजय सिंह, श्रीराम साह, अरुण कुमार सहित दर्जनों एसएसबी के जवान व ग्रामीण मौजूद थे ।

Spread the love