एफएमडीए के सभी निर्माण कार्यों का थर्ड पार्टी एसेसमेंट (पुर्नरीक्षण) के बाद होगा भुगतान : अनिल मलिक

64 Views
  • एफएमडीए के प्रत्येक प्रोजेक्ट में निर्माण कार्य में गुणवत्ता को बनाए रखने के लिए उठाया गया कदम
  • थर्ड पार्टी पुर्नरीक्षण के बाद भी प्रोजेक्ट में शामिल चीफ इंजीनियर काम को करेगा सर्टिफाई
  • बाईपास रोड के साथ-साथ ग्रीन बेल्ट प्रोजेक्ट को लेकर भी अधिकारियों को दिए निर्देश

फरीदाबाद : फरीदाबाद महानगर विकास प्राधिकरण (एफएमडीए) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अनिल मलिक ने कहा कि एफएमडीए के अंतर्गत होने वाले सभी ‌विकास कार्यों का भुगतान अब थर्ड पार्टी एसेसमेंट (पुर्नरीक्षण) के बाद किया जाएगा। इस पुर्नरीक्षण के बाद भी संबंधित परियोजना में शामिल चीफ इंजीनियर को भी काम को सर्टिफाई करना होगा। उन्होंने कहा कि किसी भी विकास कार्य के निर्माण में गुणवत्ता से समझौता किसी भी बर्दाश्त नहीं होगा और कमी पाए जाने पर तुरंत कार्रवाई करनी होगी। श्री मलिक आईएमटी स्थित एफएमडीए कार्यालय में जिला में एफएमडीए के अंतर्गत चल रहे विभिन्न विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।

मीटिंग के दौरान उन्होंने कहा कि एफएमडीए द्वारा दो 880 करोड़ रुपये के एचएसवीपी के अधूरे कार्य लिए गए थे और इनमें सेक्टर 75 से 89 में बुनियादी सुविधाओं का विकास करना शामिल है। इसके साथ ही 8.81 करोड़ रुपये के पेयजल की परियोजनाएं भी शहर के लिए शामिल हैं। इसके साथ ही अधिकारियों ने बताया कि खेडी व जसाना रोड पर सोसायटियों में पेयजल आपूर्ति के लिए दो करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट चल रहे हैं। इसके अलावा कई अन्य सड़क परियोजनाएं भी शहर में चल रही हैं। उन्होंने मीटिंग में रैनीवैल प्रोजेक्ट की भी समीक्षा की।

इसके साथ मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा पिछली एफ‍एमडीए की मीटिंग में दिए गए निर्देर्शों की भी क्रमवार ढंग से समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने विभिन्न नई सड़कों के निर्माण कार्यों में आ रही दिक्कतों के बारे में विस्तार से चर्चा की और निर्देश भी दिए। मीटिंग में एफएमडीए की अतिरिक्त सीईओ डा. गरिमा मित्तल, संयुक्त सीईओ गौरी मिड्ढा सहित इंजीनियरिंग विंग के सभी चीफ इंजीनियर, एक्सईएन्‍ व अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.