एक बार फिर राम का जन्म हुआ!

289 Views

फरीदाबाद। श्री धार्मिक लीला कमेटी 5 नंबर एम ब्लाक की रामलीला का शुभ आरंभ पूर्व मंत्री ए. सी. चौधरी ने किया। मंच पर शहीद भगत सिंह की प्रतिमा लगाई गई और सभी अतिथियों व कलाकारों ने शहीद भगत सिंह को पुष्प अर्पित करके उनका जन्मदिन मनाकर रामलीला का शुभ आरंभ किया। निर्देशक हरीश चन्द्र आजाद ने बताया कि मंच पर राम जन्म दिखाया गया। दशरथ का अभिनय कर रहे पंकज खरबंदा ने अपने 20 वर्षों के लंबे अनुभव की छाप छोड़ी तथा विश्वामित्र के रोल में अमित नागपाल ने अपने क्रोधित शब्दों से दर्शकों की तालियां बटोरी। छोटे राम विधांश खरबंदा व छोटे लक्ष्मन हार्दिक बत्तरा ने अपने मासूम अभिनय से दर्शको का दिल जीता तथा मारीच के रोल में सौरभ बत्तरा का डायलाग ‘‘एक औरत का कत्ल कर, उछल रहा रणबीच, बचकर जायेगा कहां अब आ पहुंचा मारीच’’ कमाल का रहा।

निर्देशक आजाद ने बताया कि आज का सबसे बेहतरीन दृश्य मारीच का अभिनय कर रहे राजू खरबंदा का दर्शकों के बीच से भयानक आवाजों से चिल्लाते हुए आना तथा ताडक़ा के मरने पर राक्षसों द्वारा पंजाबी भाषा में स्यापा करना दर्शकों को आन्नदित किया स्यापे में रामलीला के दो सबसे पुराने कलाकारों अनिल नागपाल व गुलशन नागपाल ने अपने अभिनय की कला को जीवित किया।

Spread the love