उपायुक्त ने घरों में जाकर पूछा कि उनके घर में स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची है या नहीं

207 Views

फरीदाबाद, 10 अप्रैल। उपायुक्त यशपाल ने कहा कि जिला प्रशासन ने लोगों के स्वास्थ्य की जांच के लिए सघन अभियान चलाया हुआ है, जिसके तहत प्रत्येक हाउसहोल्ड को कवर किया जा रहा है। लोगों से भी लगातार अपील की जा रही है कि अगर उनमें जुकाम, खांसी या बुखार के सिस्टम तो वे स्वयं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को सूचना दें तथा अपना चेकअप करवाएं।

उपायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ सेक्टर-18 व सेक्टर-31 का दौरा किया तथा स्वयं में भी कुछ घरों में जाकर पूछा कि उनके घर में स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची है या नहीं। इस पर सभी हाउसहोल्ड ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम उनके घर पहुंची है और उनसे उनके स्वास्थ्य के संबंध में विवरण लिया है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के संबंध में किसी भी व्यक्ति को सिम्टम छिपाने नहीं चाहिएं। इससे वह स्वयं को भी खतरे में डालता है और अन्य लोगों में संक्रमण का खतरा पैदा करता है। यदि कोई व्यक्ति जान-बूझकर इस बीमारी को छुपाएगा तो उसके खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। अगर कोई व्यक्ति किसी अन्य के बारे में झूठी अफवाह फैलाता है तो उसके खिलाफ भी कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।  

उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिला में सभी अस्पतालों, क्लीनिक, दवाइयों की दुकानों से कोई जुकाम, खांसी या बुखार की दवा लेता है तो उस व्यक्ति की डिटेल फोन नंबर सहित स्वास्थ्य विभाग के पास पहुंचनी चाहिए, ताकि उस व्यक्ति की उचित ट्रैकिंग हो सके। उन्होंने कहा कि सर्वे के दौरान अगर किसी परिवार या व्यक्ति में जुकाम, खांसी या बुखार के सिम्टम मिलते हैं तो उसकी ट्रैकिंग अवश्य की जाए तथा अगर टैªकिंग में संदिग्ध हालत मिलते हैं तो उसके तुरंत क्वारेंटाइन किया जाए तथा उसके सैंपल लिए जाएं। इस अवसर सिविल सर्जन डा. कृष्ण कुमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

5 Replies to “उपायुक्त ने घरों में जाकर पूछा कि उनके घर में स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंची है या नहीं”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *