इंडिगो एयरलाइंस में नौकरी दिलवाने के नाम पर देशभर में ठगी की 18 वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए 9 आरोपियों को साईबर थाना एनआईटी की टीम ने किया गिरफ्तार

80 Views
  • आरोपियों के कब्जे से 1 लैपटॉप, 20 मोबाइल फोन, 13 सिम तथा 3 लाख 22 हजार रुपए बरामद

फरीदाबाद : पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा द्वारा धोखाधड़ी व साइबर ठगी के मामलों में शामिल आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी के दिशा-निर्देश तहत कार्रवाई करते हुए साइबर थाना एनआईटी प्रभारी इंस्पेक्टर बसंत की टीम ने देशभर में ठगी की 18 वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह के 9 आरोपियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। इस मामले में अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी बकाया है जिनकी तलाश की जा रही है और उन्हें जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

डीसीपी हेडक्वार्टर नितीश अग्रवाल ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों में दीपक सिह, सुरेन्द्र प्रताप सिह उर्फ संजू बाबा, मानवेन्द्र सिह, अजीत सिंह, शिवम सिंह, मोहित, सत्यम सिह, रजत सेंगर तथा विनीत सिह का नाम शामिल है। आरोपी दीपक सिह, सुरेन्द्र प्रताप सिह उर्फ संजू बाबा, मानवेन्द्र सिह, अजीत सिंह, शिवम सिंह, सत्यम सिह, तथा विनीत सिह उत्तर प्रदेश के जालौन जिले के रहने वाले है व आरोपी मोहित उत्तर प्रदेश के मैनपुरी जिले का तथा आरोपी रजत उत्तर प्रदेश के औरेया जिले का रहने वाला है। वर्तमान में सभी आरोपी दिल्ली के विपिन्न गार्डन द्वारका मोड़ में रह रहे है।

उन्होंने बताया कि कोई भी व्यक्ति अपनी शिक्षा, ज्ञान और मेहनत के अनुसार सरकारी या प्राइवेट नौकरी प्राप्त कर सकता है। किसी भी प्रतिष्ठित कंपनी में काम करना एक पढ़े लिखे व्यक्ति का सपना होता है जिसे पूरा करने के लिए वह जी तोड़ मेहनत करते हैं। नौकरी प्राप्त करने के लिए आजकल बहुत सारी ऑनलाइन वेबसाइट उपलब्ध है जिनपर व्यक्ति अपनी योग्यता के आधार पर नौकरी सर्च कर सकता है परंतु कुछ ठग प्रवृत्ति के व्यक्ति इसका गलत फायदा उठाकर लोगों के साथ धोखाधड़ी की वारदात को अंजाम देते हैं। इसी प्रकार की धोखाधड़ी की वारदात को अंजाम देते हुए एक साइबर ठग गिरोह ने ऑनलाइन नौकरी तलाश की वेबसाइट shine.com का सहारा लेकर फरीदाबाद के रहने वाले एक व्यक्ति के साथ साइबर ठगी की वारदात को अंजाम दिया।

दिनांक 27 जुलाई 2022 को साइबर पुलिस थाना एनआईटी में धोखाधड़ी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था जिसमें पीड़ित अवनीश ने बताया कि आरोपियों ने उसके साथ 6 लाख 65 हजार 440 रुपए की धोखाधड़ी को अंजाम दिया है। पीड़ित की शिकायत के आधार पर थाने में मुकदमा दर्ज करके मामले की जांच शुरू की गई।

पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा ने मामले में तुरंत संज्ञान लेते हुए आरोपियों की धरपकड़ के निर्देश दिए जिसके तहत डीसीपी एनआईटी नीतीश कुमार अग्रवाल के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी इंस्पेक्टर बसंत की अगुवाई में पुलिस टीम का गठन किया गया जिसमें उप.नि. राजेश कुमार, स.उप.नि. नरेन्द्र कुमार, स.उप.नि. नीरज कुमार. स.उप.नि. सत्यवीर, मु.सि. भूपेन्द्र, सि. संदीप कुमार, सि. अंशुल, सि. अमित, सि. राकेश की एक टीम का नाम शामिल था। साइबर थाना की टीम ने तकनीकी के माध्यम से मामले में शामिल 9 आरोपियों को दिल्ली एनसीआर एरिया से गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी सुरेन्द्र प्रताप सिह उर्फ संजू बाबा, शिवम सिंह, मोहित, सत्यम सिह, रजत सेंगर तथा विनीत सिह को 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया था। जिन्हे पूछताछ के बाद अदालत में पेश कर जेल भेज दिया है। मुख्य दीपक सिह, मानवेन्द्र सिह तथा अजीत सिंह को 10 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया।

पुलिस रिमांड में पूछताछ के दौरान सामने आया कि आरोपी दिल्ली के द्वारका मोड़ में एक फर्जी कॉल सेंटर चलाते थे जिसमें shine.com वेबसाइट से नौकरी की तलाश कर रहे व्यक्ति की जानकारी एकत्रित करते थे और उस व्यक्ति से संपर्क करके उन्हें एयर एशिया कंपनी में एक बहुत अच्छे सैलरी पैकेज का लालच देकर देते थे जिससे व्यक्ति उनके झांसे में आ जाता था। इसके पश्चात फिल्मी अंदाज में नौकरी की तलाश कर रहे व्यक्ति का इंटरव्यू लिया जाता था जिसके पश्चात वह बताते थे कि उनका सिलेक्शन एयर एशिया के लिए हो चुका है और वह एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया का फर्जी ऑफर लेटर तैयार करके कुरियर के माध्यम से इसे व्यक्ति के घर पंहुचा देते थे। ऑफर लेटर मिलने के पश्चात जब व्यक्ति को यकीन हो जाता कि वह एयर एशिया कंपनी के लिए सेलेक्ट हो चुका है तो आरोपी उसे रजिस्ट्रेशन फीस, सिक्योरिटी चार्ज, मेडिकल चार्ज व ट्रेनिंग करवाने के नाम पर अलग-अलग बहानों से पैसे मांगते रहते थे और जब पैसा उनके खातों में ट्रांसफर हो जाता था तो अपना मोबाइल नंबर बंद कर लेते थे।

पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपी इस वारदात का मुख्य दीपक सिह, मानवेन्द्र सिह तथा अजीत सिंह आरोपी है जो कॉल सेंटर का मालिक है। फर्जी बैंक खाता तथा सिम उपलब्ध करवाने वाले आरोपी को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। आरोपी मानवेन्द्र सिह कॉल सेंटर में कॉल, ईमेल तथा कंपनी का फर्जी अप्वाइंटमेंट लेटर भेजने का काम करते थे।

आरोपियों के कब्जे से वारदात में प्रयोग एक लैपटॉप, 20 मोबाइल, 13 सिम तथा 3 लाख 22 हजार रुपए बरामद किए गए हैं। आरोपियों द्वारा बरामद किए गए मोबाइल को ट्रेस करने पर सामने आया कि आरोपी देशभर में साइबर ठगी की 18 वारदातों को अंजाम देना सामने आया है। जिसमें गुजरात में सबसे अधिक 5, उत्तर प्रदेश में 4,दिल्ली में 3, छत्तीसगढ़ में 3, तथा कर्नाटका तमिलनाडु व महाराष्ट्र में 1-1 वारदातें शामिल है। आरोपी हरियाणा में भी साइबर ठगी की 1 वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। रिमांड पूरा होने के पश्चात आरोपी सुरेन्द्र प्रताप सिह उर्फ संजू बाबा, शिवम सिंह, मोहित, सत्यम सिह, रजत सेंगर तथा विनीत सिह को पहले ही जेल भेजा जा चुका था वहीं आज मुख्य आरोपी दीपक सिह, मानवेन्द्र सिह तथा अजीत सिंह को 10 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है।

Spread the love

3 Replies to “इंडिगो एयरलाइंस में नौकरी दिलवाने के नाम पर देशभर में ठगी की 18 वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए 9 आरोपियों को साईबर थाना एनआईटी की टीम ने किया गिरफ्तार”

  1. As I am looking at your writing, slotsite I regret being unable to do outdoor activities due to Corona 19, and I miss my old daily life. If you also miss the daily life of those days, would you please visit my site once? My site is a site where I post about photos and daily life when I was free.

Leave a Reply

Your email address will not be published.