आयुक्त सोनल गोयल ने अनेक क्षेत्रों का दौरा सफाई व्यवस्था का जायजा लिया

267 Views

फरीदाबाद, 18 नवम्बर। शहर की सफाई व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए कृतसंकल्प फरीदाबाद नगर निगम की आयुक्त सोनल गोयल ने फिर अनेकों क्षेत्रों का दौरा किया। इस दौरान काम में लापरवाही पाए जाने पर निग्मायुक्त ने निगम अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाते हुए निगम के कार्यकारी अभियंता दीपक किंगर, सहायक अभियंता पदम भूषण व जीतराम को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। कूड़े का सही ढंग से उठान न होने के कारण नाराजगी प्रकट करते हुए उन्होंने ईको ग्रीन के अधिकारियों को अपने कामकाज में सुधार करने के निर्देश दिए और कूड़े के लिए पक्के प्लेटफार्म की व्यवस्था करने को कहा। अनखीर गांव के साथ लगते ग्रीन बेल्ट में ग्रामीणों द्वारा थापे गये उपले व गंदगी को देखकर निग्मायुक्त ने स्वास्थ्य अधिकारी डा. उदयभान शर्मा व कार्यकारी अभियंता दीपक किंगर को संबंधित व्यक्तियों के चालान काटने के आदेश दिए। अपने दौरे के दौरान उन्होंने खुले में पड़ी हुई भवन सामग्री के आरोप में बड़खल गांव में एक व्यक्ति का चालान अपने सामने कटवाया और अनेकों जगहों पर कबाड़ियों के द्वारा खुले में सामान रखने के आरोप में भी चालान कटवाये।

उन्होंने सैनिक कालोनी रोड स्थित एसजीएम नगर ए ब्लाक के साथ लगते हुये क्षेत्र का दौरा किया और सड़क के साथ लगती हुई बर्म के सौंदर्यीकरण के आदेश अधीक्षण अभियंता व कार्यकारी अभियंता को दिए। पिछले दिनों संजय गांधी मैमोरियल नगर में जिस स्थान पर सड़क दुर्घटना के कारण एक व्यक्ति की मौत हुई थी, निग्मायुक्त ने उस स्थान का भी निरीक्षण किया और संबंधित कार्यकारी अभियंता विजय ढाका को गंदे पानी की निकासी तुरंत करने के निर्देश दिए और ऐसा न किए जाने पर कड़ी कार्यवाही की चेतावनी दी। मुख्य अभियंता डी.आर. भास्कर, अधीक्षण अभियंता बीरेन्द्र करदम, स्वास्थ्य अधिकारी डा. उदयभान शर्मा, कार्यकारी अभियंता दीपक किंगर, श्याम सिंह व विजय ढाका, सहायक अभियंता जीतराम निग्मायुक्त के इस दौरे में उनके साथ थे।

इधर फरीदाबाद में वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए निगम प्रशासन का अभियान निरंतर जारी है। कल 17 नवम्बर से 2019 से आज सायं 4 बजे तक निर्माणाधीन भवनों और खुले में पड़ी हुई भवन सामग्री से संबंधित 221 निरीक्षण किए गये, जिसमें से दोषी पाये गये 37 व्यक्तियों से 5,65000 रूपये का जुर्माना लगाया गया, जिसमें से अकेले ओल्ड फरीदाबाद जोन में एक-एक लाख रूपये के 4 चालान कार्यकारी अभियंता ओमबीर सिंह के नेतृत्व में काटे गए। कूड़ा डालने से संबंधित 158 स्थानों का निरीक्षण किया गया जिनमें से 48 लोगों के चालान किए गए। 1 लोगों से कूड़ा जलाने के कारण 5000 रूपये का जुर्माना वसूल किया गया। इसके इलावा पिछले 24 घंटे में 25 पानी के टैंकरों से लगभग 100 कि0मी0 मुख्य सड़कों व रास्तों पर पानी का छिड़काव किया गया। इन दौरान निगम की टीमों ने निर्माण कार्य रोकने, भवन सामग्री को ढक कर रखने, कूड़ा न जलाने और कूड़ा जलाने वालों व प्रदूषण फैलाने वालों की सूचना निगम प्रशासन को देने के लिए जगह-जगह जन साधारण को प्रेरित भी किया, जिसके परिणामस्वरूप निगम प्रशासन को प्रदूषण को नियंत्रित करने में काफी हद तक सफलता प्राप्त हुई है। निग्मायुक्त ने बताया कि वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिए नगर निगम प्रशासन का अभियान निरंतर जारी रहेगा।

Spread the love