अब एक ही ऐप के माध्यम से ले सकेंगे सभी सरकारी सेवाओं का लाभ : उपायुक्त जितेंद्र यादव

105 Views

फरीदाबाद, 17 नवम्बर। प्रदेश सरकार द्वारा दी जाने वाली सेवाएं और सूचनाएं अब एक ही ऐप के माध्यम से मोबाइल पर ही प्राप्त की जा सकती है। इसके लिए प्रदेश सरकार द्वारा जन सहायक हेल्प मी एप शुरू किया हुआ है।

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने बताया कि सरकार द्वारा शुरू की गई “जन सहायक-हेल्प मी ऐप” के माध्यम से आम नागरिकों को सभी सरकारी सेवाएं और सूचनाएं मोबाइल फोन पर ही उपलब्ध होंगी। यह सेवाएं आप घर पर मौजूद रहते हुए ही एप के माध्यम से देख सकते हैं और योजनाओं का फायदा उठा सकते हैं। इसके लिए जिलावासी मोबाईल पर जनसहायक ऐप डाउनलोड कर सकते हैं। ऐप का इस्तेमाल करने के लिए मोबाइल नंबर या परिवार पहचान पत्र के द्वारा रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है। उन्होंने बताया कि नागरिकों को विभाग अनुसार एवं सरल पोर्टल पर उपलब्ध सेवाओं की जानकारी जन सहायक एप पर मिलेगी।

उन्होंने बताया कि 112 आपातकालीन सेवाएं, 100 पुलिस, 108 एंबुलेंस, 101 अग्निशमन, 104 स्वास्थ्य, 1091 महिला हेल्पलाइन, 1098 बाल हेल्पलाइन, 1075 कोविड-19 हेल्पलाइन सहित अन्य सेवाओं के रूप में निविदाएं, बिल भुगतान, यात्रा, नौकरियां, खेल, आधारभूत संरचना व कौशल विकास और सरल सेवाएं, विभागवार सेवाएं, यूजर्स सेवाएं व जन शिकायत एवं आरटीआई आदि सभी प्रकार की सेवाएं व सूचनाएं जन सहायक एप पर उपलब्ध हैं। साथ ही एप पर नवीनतम समाचार, कैलेंडर एवं कार्यक्रम, सरकार की नवीनतम उपलब्धियां और घोषणाओं सहित सरकारी दूरभाष निर्देशिका भी मौजूद है, जिसका प्रयोग लोग अपने मोबाइल फोन के माध्यम से उठा सकते हैं।

उपायुक्त ने बताया कि जन सहायक एप के माध्यम से सरकार द्वारा किसी विशेष जिला, आयु वर्ग आदि के नागरिकों को नोटिफिकेशन भेजी जा सकती है। जन सहायक एप पर रजिस्ट्रेशन करवाकर सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाया जा सकता है। इस जनसहायक एप के माध्यम से सरकार द्वारा दी जा रही सेवाओं पर नागरिक अपने सुझाव भी दे सकते हैं। साथ ही प्राप्त सुझावों का विश्लेषण कर विभागों की सेवा प्रदायगी को और उत्कृष्ट बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हरियाणा जनसहायक एप की मदद से राज्य के नागरिको को सूखा राशन वितरण, बना बनाया भोजन, डॉक्टर, पढ़ाई, कहीं पर आने-जाने के लिए पास, वित्तीय मदद, सिलेंडर, एम्बुलेंस सहित अन्य विभिन्न सुविधाएं उपलब्ध करवाने का विकल्प भी है। ऐप के माध्यम से किसी व्यक्ति द्वारा किसी भी सेवा के लिए अनुरोध किये जाने पर तुरंत संबंधित जिला के संबंधित अधिकारी को आवश्यक कार्रवाई के लिए भेज दिया जाता है। स्वयं सेवी संस्थाएं तथा समर्थ नागरिक एवं परिवार इस एप के माध्यम से पंजीकरण करवा कर जरूरतमंद लोगो को मदद पंहुचा सकते हैं। इस एप के माध्यम से घर से ही मोबाइल बैंकिंग एप के द्वारा नकदी की निकासी के लिए भी आवेदन किया जा सकता है।

उन्होंने बताया कि सभी इच्छुक नागरिक जो जनसहायक मोबाइल एप को डाउनलोड करना चाहते हैं वे गूगल प्ले स्टोर से ऐप को डाउनलोड कर लें। मोबाइल ऐप के इंस्टॉल होने के बाद ऐप को ओपन करके भाषा का चयन करें। इसके बाद 10 अंको का मोबाइल नंबर दर्ज करके बटन पर क्लिक कर दें। एक ओटीपी सत्यापन कोड प्राप्त होगा जिसके निर्धारित स्थान में दर्ज करके मोबाइल नंबर को सत्यापित कर ले। मोबाइल नंबर के सफलतापूर्वक सत्यापित होने के बाद ऐप के माध्यम से सेवाओं के लिए अनुरोध किया जा सकता है।

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published.