अपनी मांगों को लेकर नगर निगम के कर्मचारियों ने निगम मुख्यालय पर जोरदार प्रर्दशन कर नारेबाजी की

227 Views

फरीदाबाद, 18 नवम्बर। फरीदाबाद नगर निगम में सलाहकार के पद पर कार्यरत एस.एल. मदान को हटाने, आउटसोर्सिंंग कर्मचारियों सहित सभी कर्मचारियों को वेतन भुगतान करने सहित सेवानिवृत कर्मचारियों को उनके सेवानिवृति लाभों का भुगतान करने और अन्य मांगों को लेकर नगर निगम के कर्मचारियों ने निगम मुख्यालय पर जोरदार प्रर्दशन करते हुए नारेबाजी की। म्युनिसिपल कारपोरेशन ईम्पलाईज फैडरेशन, फरीदाबाद के तत्वावधान में किए गए इस प्रदर्शन का नेतृत्व फैडरेशन के प्रधान रमेश जागलान, वरिष्ठ उपप्रधान शाहाबीर खान, कोषाध्यक्ष रणसिंह भडाना, कार्यालय कर्मचारी यूनियन के प्रधान नरेश बैंसला, प्रचार सचिव अमित शर्मा, कोषाध्यक्ष रोहताश शर्मा, मैकेनिकल वर्कर यूनियन के प्रधान रमेश पहलवान, वरिष्ठ उपप्रधान महेन्द्र पाल, उपप्रधान कर्मचन्द बघेल, प्रमोद रोहिल्ला, सीता राम, टेक चंद शर्मा व राजेन्द्र आदि ने किया।

फैडरेशन प्रधान रमेश जागलान ने निगम की लेखा शाखा के बाहर प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए निगम प्रशासन पर कर्मचारियों को आन्दोलन करने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया। उन्होने निगम सलाहकार एस.एल. मदान की कार्यषैली व कर्मचारियों और अधिकारियों के प्रति किये जा रहे व्यवहार की कड़ी निंदा करते हुए उन्हें बिना किसी देरी के नगर निगम से चलता करने की मांग की अन्यथा निगम के कर्मचारी केवल इस मांग को लेकर निगम के तीनों जोनों के कार्यालयों का काम-काज ठप्प कर देंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि निगम अधिकारियों की लापरवाही व फिजूलखर्ची के कारण नगर निगम आज पूरी तरह से कंगाल हो गया है, जिसका खम्यिाजा कर्मचारियों को भुगतना पड़ रहा है। जहां नियमित कर्मचारियों को समय पर वेतन का भुगतान नहीं हो पा रहा है, वहीं आउटसोर्सिंग पर कार्यरत कर्मचारियों को पिछले दो-तीन महीनों से वेतन का भुगतान नहीं किया जा रहा है। आउटसोर्सिंग एजेंसी तरह-तरह की शर्तें थोपकर कर्मचारियों को बेवजह परेशान कर रही है, जिसे कर्मचारी हरगित बर्दाश्त नहीं करेगें। श्री जागलान ने आरोप लगाया कि किसी समय में सेवानिवृति तिथि को ही पेशन पेमेंट आर्डर सहित सभी प्रकार के सेवानिवृति लाभों का भुगतान करने वाला निगम प्रशासन सेवानिवृत कर्मचारियों को पिछले डेढ़ साल से अधिक समय से सेवानिवृति लाभों का भुगतान नहीं कर रहा है और ये वरिष्ठ कर्मचारी निगम कार्यालय के धक्के खाने को मजबूर हैं।

फैडरेशन ने चेतावनी दी है कि यदि निगम सलाहकार एस.एल. मदान को हटाने सहित उनकी अन्य मांगों को पूरा नहीं किया गया तो निगम कर्मचारी आगामी 20 नवम्बर से अनिश्चितकालीन आंदोलन शुरू कर देंगें, जिसमें धरना, प्रदर्शन, भूख हड़ताल, पैन डाउन टूल डाउन हड़ताल सहित हड़ताल करना आदि शामिल हैं। कर्मचारियों की मुख्य मांगों में वर्ष 2014 की पालिसी में वंचित रह गये 157 कर्मचारियों को नियमित करने, सभी कैडरों में पदोन्नति के लिए रिक्त पदों को भरा जाए, एल.टी.सी., शिक्षा भत्ता एवं बकायाजात एरियर का भुगतान किया जाए, निगम मुख्यालय में पार्किंग एवं कैंटीन की व्यवस्था की जाए, सभी पात्र कर्मचारियों को ए.सी.पी. स्केल का लाभ दिया जाए, कर्मियों को तेल साबुन दिया जाए, तीनों जोनो के कार्यालय , बुस्टिंग व डिस्पोजलों पर फर्नीचर की व्यवस्था की जाए और ठेकेदारी प्रथा बंद की जाए आदि शामिल हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *